Hindi News »Maharashtra Latest News »Pune News »News» Story Of India Top Psycho Serial Killers.

सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 02:49 PM IST

आज हम आपको ऐसे ही कुछ सीरियल किलर्स के बारे में बताने जा रहे हैं। ये अपने जुर्म के तरीकों की वजह से फेमस हुए थे।
  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    साइनाइड किलर साइनाइड मोहन(बाएं) और ऑटो शंकर(दाएं)

    मुंबई.हरियाणा के पलवल में नए साल की रात एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक शख्स ने 6 लोगों का मर्डर कर दिया। आरोपी रात में घर से रॉड लेकर निकला और अलग-अलग जगह छह लोगों का मर्डर कर दिया। पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, आरोपी एक साइको सीरियल किलर है। हमारे देश में ऐसे कई सीरियल किलर हुए हैं जिनके कारनामे सुनकर रौंगटे खड़े हो जाते हैं। आज हम आपको ऐसे ही कुछ सीरियल किलर्स के बारे में बताने जा रहे हैं। ये अपने जुर्म के तरीकों की वजह से फेमस हुए थे। इनमें से कोई अपने शिकार का रेप करता था, कोई इन्हें सायनाइड खिला कर मारता था।

    स्टोनमैन
    - मुंबई के कुख्यात सीरियल किलर को लोग स्टोनमैन के नाम से जानते थे। यह सीरियल किलर आज तक एक रहस्य बना हुआ है।
    - 1989 में मुंबई में रहने वाले नौ लोगों को एक ही तरह से मारा गया था। उनके सिर को एक बड़े से पत्थर से कुचला गया था।
    - हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि बाकी सारे खून एक ही इंसान ने किए या एक को देख कर अलग अलग लोगों ने उसी तरह बाकी खून किए।
    - साल 2009 में स्टोनमैन पर एक मूवी भी आई थी। इसमें अरबाज खान और के.के. मेनन लीड रोल में थे।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़िए ऐसे ही कुछ और सीरियल किलर्स के बारे में ...

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    मलिका ने कुल 6 महिलाओं को जहर खिलाकर मार डाला था।

    साइनाइड मल्लिका


    - महिला सीरियल किलर में सबसे पहला नाम साइनाइड मल्लिका का शुमार किया जाता है। कहते हैं कि मल्लिका मंदिरों में आने वाले धनी व रईस परिवार की महिलाओं का शिकार करती थी।
    - मल्लिका उन महिलाओं के सामने खुद को पूजा-पाठ और कर्मकांडी वाली महिला की तरह पेश करती थी, जिससे महिलाएं उसके झांसे में जल्द आ जाती थीं।

    - वह उन महिलाओं को उनके ईष्टदेवता को खुश करने के लिए खास पूजा-अनुष्ठान का लालच देकर मंदिर से दूर एकांत में बुलाती थी और जब भरे-पूरे गहनों में शिकार उसके पास पहुंचती तो पूजा-अनुष्ठान के बाद वह पीड़िता को साइनाइड मिश्रित प्रसाद खिलाकर अथवा साइनाइड मिश्रित जल पिलाकर उनकी बेदर्दी हत्या कर देती थी और उनके गहने और पैसे लेकर फरार हो जाती थी. वर्ष 1999 से 2007 के बीच साइनाइड मल्लिका ने कुल 6 महिलाओं को जहर खिलाकर मार डाला था।
    - साल 2007 में मल्लिका गिरफ्तार हुई और अप्रैल, 2012 में उसे मौत की सजा सुनाई गई, जो बाद में उम्रकैद में बदल दी गई।

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    सीरियल किलिंग में गिनीज बुक में नाम लिखवा चुका है यह शख्स।

    ठग बेहराम


    - सीरियल किलिंग में गिनीज बुक में नाम लिखवा चुका सीरियल किलर ठग बेहराम पर कुल 931 लोगों की हत्या का आरोप था।
    - बेहराम को किंग ऑफ ठग भी कहा जाता है। कहते हैं वर्ष 1790 से 1840 के बीच में कुख्यात रहे ठग बेहराम से अंग्रेज भी घबराते थे।
    - सीरियल किलर बेहराम लूट के इरादे से लोगों को शिकार करता था और बेहद ही अनोखे तरीके से शिकार का गला घोंटकर उनकी हत्या कर देता था।
    - साल 1840 में बेहराम को गिरफ्तार किया और उसे फांसी की सजा दे दी गई। कहते हैं कि इंग्लिश शब्द Thug (ठग) हिंदी से तभी लिया गया होगा, जिसमें ठग बेहराम की भूमिका जरूर रही होगी।

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    यह प्राइमरी स्कूल में एक साइंस टीचर था।

    साइनाइड मोहन


    - साइनाइड मोहन के नाम से कुख्यात सीरियल किलर आनंद कुलाल उर्फ मोहन कुमार प्राइमरी स्कूल में एक साइंस टीचर था। यह एक बहुत ही दुर्लभ कॉम्बिनेशन था।
    - साइनाइड मोहन महिलाओं को शादी के लिए पहले प्रपोज करता था और शादी की तारीख से ठीक एक दिन पहले वह महिला से जिस्मानी रिश्ता कायम करता था और सुबह होते ही एंटी-प्रेग्नेंसी दवा बताकर महिला को साइनाइड नामक जहर खिलाकर मार देता था। इसके बाद वह शादी के गहने व सामान लेकर भाग जाता था।
    - साल 2005 से 2009 के बीच सीरियल किलर साइनाइड मोहन ने इसी तरह से कुल 20 महिलाओं का शिकार करके उनकी हत्या की थी।
    - मंगलौर फास्ट ट्रैक कोर्ट में 4 साल हुई सुनवाई के बाद उसको दोषी करार दिया गया और दिसंबर, 2013 में साइनाइड मोहन को फांसी दे दी गई।

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    ऑटो शंकर पर कुल 6 महिलाओं की हत्या का आरोप था।

    ऑटो शंकर


    - 90 के दशक में चेन्नई में ऑटो शंकर नामक सीरियल किलर का आतंक तेजी से फैला हुआ था।
    - ऑटो चलाने वाला सीरियल किलर गौरीशंकर पर कुल 6 महिला पैसेंजरों की हत्या का आरोप था।
    - यही कारण है कि उसका नाम ऑटो शंकर पड़ गया। ऑटो शंकर ने एक-एक करके कुल 6 महिला पैसेंजरों का सिलसिलेवार तरीके से हत्या की थी और बाद में उनकी लाशों को जलाकर अवशेष को बंगाल की खाड़ी में फेंक देता था।
    - साल 1988 में 6 महीने के गैप में कुल 9 लड़कियां अचानक लापता हो गईं और काफी जद्दोजहद के बाद सीरियल किलर ऑटो शंकर और अपराध में शामिल उसके साथियों को पुलिस गिरफ्तार कर सकी थी।

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    रमन राघव की लाइफ पर फिल्म भी बन चुकी है।

    रमन राघव


    - 60 के दशक में मायानगरी मुंबई की रंगीन सड़कों को सूनसान में तब्दील करने वाले सीरियल किलर रमन राघव पर कुल 40 लोगों की हत्या का आरोप था। - वह अक्सर फुटपॉथ और झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले लोगों को अपना शिकार बनाता था।
    - साल 1968 में मुंबई क्राइम ब्रांच पुलिस ऑफिसर रमाकांत कुलकर्णी के अथक प्रयासों से उसकी गिरफ्तारी हुई और बाद उसे मौत की सजा सुनाई गई। - कहते हैं कि सीरियल किलर रमन राघव एक सनकी इंसान था, शायद यही वजह थी कि वर्ष 1987 में हाईकोर्ट ने उसकी मौत की सजा को उम्रकैद में बदल दिया था।
    - सीरियल किलर रमन राघव पर हाल में निर्देशक अनुराग कश्यप ने रमन राघव-2.0 नाम से एक फिल्म बनाई थी, जिसके मुख्य किरदार में मंझे हुए अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी थे।

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    सुरिंदर पर 17 बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न के बाद उनकी हत्या का आरोप हैं।

    सुरिंदर कोली


    - मासूम बच्चियों को शिकार बनाने वाले सीरियल किलर सुरिंदर कोली पर वर्ष 2005 से 2006 के बीच कुल 17 बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न के बाद उनकी हत्या का आरोप हैं।
    - इनमें से 4 केस में कोली को दोषी भी ठहराया जा चुका हैं और उसे फांसी की सजा भी सुनाई जा चुकी है।
    - दिल्ली से सटे औद्योगिक नगरी नोएडा के गांव निठारी में एक बिजनेसमैन मोनिंदर सिंह पंढ़ेर के घर में सहायक काम करने वाला सुरिंदर कोली प्रायः छोटी बच्चियों का शिकार किया करता था और यौन उत्पीड़न के बाद उनकी निर्ममता से हत्या कर देता था।

  • सीरियल किलर्स: कोई रेप कर खिलाता था सायनाइड, कोई पत्थर से करता था हत्या
    +7और स्लाइड देखें
    6 हत्याओं के लिए बियर मैन को आरोपित किया गया

    बियर मैन

    - दक्षिणी मुंबई में सीरियल किलर के रुप में आतंक का पर्याय बना रवीन्द्र कंट्रोल का नाम बीयर मैन इसलिए पड़ गया, क्योंकि उसके हर एक शिकार के पास से पुलिस को बियर की बोतलें बरामद हुईं थीं।
    - अक्टूबर 2006 से जनवरी 2007 के बीच सिलसिलेवार ढंग से हुई कुल 6 हत्याओं के लिए बियर मैन को आरोपित किया गया, लेकिन सितंबर 2009 में बॉम्बे हाईकोर्ट ने अह्म सबूतों के बिना पर रवींद्र कंट्रोल उर्फ बियर मैन को हत्या के सभी आरोपों से बरी कर दिया।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Pune News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Story Of India Top Psycho Serial Killers.
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×