--Advertisement--

लड़के को पहले से था अपनी मौत का आभास, कार के पीछे लिखा था कुछ एेसा

उसके स्पोर्ट कार के शौक का चर्चा पूरे शहर में था।

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 02:00 PM IST
स्पोर्ट कार के शौकीन बाॅबी राउत ने जो कार के पीछे लिखवाया था आखिर वही सच साबित हुआ। स्पोर्ट कार के शौकीन बाॅबी राउत ने जो कार के पीछे लिखवाया था आखिर वही सच साबित हुआ।

जालना. यहां के एक स्पोर्ट कार के शौकीन युवक और उसके दोस्त की कार-ट्रक के बीच टक्कर में रविवार रात मौत हो गई। युवक दोस्तों के साथ अपने लिए एक नई स्पोर्ट कार खरीदने जा रहा था तभी उसकी तेज रफ्तार कार डिवाइडर तोड़कर ट्रक के नीचे जा घुसी। इसमें दोनों की मौत हुई वहीं तीसरा दोस्त गंभीर रुप से घायल हुआ है। उसके कारों के शौक की चर्चा पूरे शहर में था। कार के पीछे लिखा था ये.....


-जालना का रहने वाला बाॅबा राउत हाॅलीवुड फिल्म 'फास्ट एंड फ्यूरियस' का दीवाना था। उसका रोल माॅडल था पाॅल वाकर।
एक से बढ़कर एक स्पोर्ट कार का शौकीन बाॅबी ने अपनी जिंदगी में तेज रफ्तार को सबकुछ माना था। इसलिए दोस्त भी उसे 'स्पीड'नाम से बुलाते थे।
- बाॅबी ने कार के पीछे लिखवाया था, "If One day the Speed Kills Me, Dont Cry Because i was Smiling"रविवार की रात यही हुआ। उसकी बात सच निकली।


तेज रफ्तार ने ली जान

-बाॅबी रविवार रात अपने दोस्त गोविंद दायमा और निखिल सेठी के साथ कार से औरंगाबाद जा रहा था। तेज रफ्तार कार डिवाइडर तोड़कर औरंगाबाद से आ रहे ट्रक के नीचे जा घुसी।
-इस हादसे में कार पूरी तरह चकनाचूर हुई। हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तीनों घायलों को बाहर निकाला।
-हाॅस्पिटल पहुंचने से पहले ही बाॅबी और गोविंद की मौत हुई वहीं निखिल हाॅस्पिटल में मौत से जूझ रहा है।


बाॅबी को नहीं पहचान सका भाई

-हादसे के बाद पुलिस ट्रक के नीचे फंसे तीनों को बाहर निकालने की मशक्कत कर रही थी, इसके लिए क्रेन की सहायता ली गई थी।
-बाॅबी का चचेरा भाई भी उसी समय औरंगाबाद से जालना जा रहा था। एक्सीडेंट स्पाॅट पर भीड़ देखकर वह भी कार से नीचे उतरा।
-उसने एक घायल को हाॅस्पिटल ले जाने में मदद की। लेकिन अंधेरे में पता नहीं चला कि वह उसका भाई है। एक घंटे के बाद उसे पता, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी।

बाॅबी को उसके दोस्त स्पीड नाम से बुलाते थे। बाॅबी को उसके दोस्त स्पीड नाम से बुलाते थे।
बाॅबी स्पोर्ट कारों का काफी शौकीन था। बाॅबी स्पोर्ट कारों का काफी शौकीन था।
उसने रफ्तार को ही अपनी जिंदगी माना था। उसने रफ्तार को ही अपनी जिंदगी माना था।
बाॅबी की कार का ट्रक के नीचे घुसने से ये हाल हुआ। बाॅबी की कार का ट्रक के नीचे घुसने से ये हाल हुआ।
हादसे में क्षतिग्रस्त ट्रक। हादसे में क्षतिग्रस्त ट्रक।
ट्रक के नीचे फंसी कार को क्रेन से बाहर निकालना पड़ा। ट्रक के नीचे फंसी कार को क्रेन से बाहर निकालना पड़ा।
X
स्पोर्ट कार के शौकीन बाॅबी राउत ने जो कार के पीछे लिखवाया था आखिर वही सच साबित हुआ।स्पोर्ट कार के शौकीन बाॅबी राउत ने जो कार के पीछे लिखवाया था आखिर वही सच साबित हुआ।
बाॅबी को उसके दोस्त स्पीड नाम से बुलाते थे।बाॅबी को उसके दोस्त स्पीड नाम से बुलाते थे।
बाॅबी स्पोर्ट कारों का काफी शौकीन था।बाॅबी स्पोर्ट कारों का काफी शौकीन था।
उसने रफ्तार को ही अपनी जिंदगी माना था।उसने रफ्तार को ही अपनी जिंदगी माना था।
बाॅबी की कार का ट्रक के नीचे घुसने से ये हाल हुआ।बाॅबी की कार का ट्रक के नीचे घुसने से ये हाल हुआ।
हादसे में क्षतिग्रस्त ट्रक।हादसे में क्षतिग्रस्त ट्रक।
ट्रक के नीचे फंसी कार को क्रेन से बाहर निकालना पड़ा।ट्रक के नीचे फंसी कार को क्रेन से बाहर निकालना पड़ा।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..