Hindi News »Maharashtra »Pune »News» When Indian Navy Personals Meet With Okhi Cyclone.

10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना

बीच समंदर में इन जवानों का सामना ओखी चक्रवात से हो गया।

Nishat Shamsi | Last Modified - Dec 09, 2017, 05:27 PM IST

    • 10 घंटे तक लहरों के बीच फंसे रहे ये जवान।

      मुंबई. ओखी चक्रवात ने तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा में अपना जमकर कहर ढाया है। करीब चार से पांच दिन में ओखी ने कई जिंदगियों को अपने चपेट में ले लिया था। इस मुश्किल की घड़ी में इंडियन कोस्ट गॉर्ड, नेवी के जवानों ने कइयों की लाइफ बचाई थी। लेकिन एक समय ऐसा भी आया जब लोगों की जिंदगी बचाने वाले ये जवान खुद मौत के मुंह में जा फंसे थे। बीच समंदर में इन जवानों का सामना ओखी चक्रवात से हो गया। 20 जवान करीब 10 घंटों तक बीच समंदर में ओखी के कहर से जूझते रहे। लेकिन इन्होने हार नहीं मानी। शनिवार को यह टीम अपनी ओखी का सामना करते हुए अपना काम पूरा कर वापस मुंबई आई है।ट्रेनिंग की वजह से बची जान...

      - 20 आर्मी के जवान 1 दिसंबर के दिन मुंबई से गोवा के लिए अलग-अलग 4 बोट में निकले थे। एक बोट में 5 लोग सवार थे, अचानक समुद्र में इनका सामना ओखी चक्रवात से हुआ।
      - ये सभी ‘आर्मी ऑफशोर सेलिंग एक्सपिडिशन ’एक्सरसाइज के तहत 1 दिसंबर को मुंबई से गोवा के लिए निकले थे।
      - इस टीम का हिस्सा रही कैप्टन अमृता द्विवेदी ने बताया,"समुद्र के अंदर इस तरह का पहला अनुभव था। जहां चक्रवात काफी भयावह था और कुछ भी हो सकता था। लेकिन दी गई हमें कड़ी ट्रेनिंग और किसी भी मुश्किल से लड़ने की ट्रेनिंग ने हमें लड़ने का जज्बा दिया। जिससे हम ओखी जैसे खतरनाक तूफान से खुद को बचा सके।"
      - कैप्टन विक्रम सिंह ने बताया यह खतरनाक हालात थे। लेकिन हमारी ट्रेनिंग ने ऐसे खतरनाक मौसम से लड़ने में हमारी मदद की। यह अनुभव आने वाले समय मे लोगो के लिए काम आएगा।
      - लहरों के बीच फंसे ये जवान हारे नही बल्कि लहरों से डेट रहते पूरे दस घंटे समुद्र में बिताये।

    • 10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना
      +6और स्लाइड देखें
      ओखी तूफान ने कई घंटे तक रोका इनका रास्ता।
    • 10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना
      +6और स्लाइड देखें
      नेवी की ट्रेनिंग ने बचाई इनकी जान।
    • 10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना
      +6और स्लाइड देखें
      ये मुंबई से गोवा के लिए निकले थे।
    • 10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना
      +6और स्लाइड देखें
      ये सभी ‘आर्मी ऑफशोर सेलिंग एक्सपिडिशन’ एक्सरसाइज के तहत गोवा जा रहे थे।
    • 10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना
      +6और स्लाइड देखें
      सभी सही सलामत गोवा पहुंचे।
    • 10 घंटे तक मौत के मुंह में फंसे नेवी के जवान, डरने की जगह ऐसे किया सामना
      +6और स्लाइड देखें
      सभी सही सलामत हैं।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Pune News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: When Indian Navy Personals Meet With Okhi Cyclone.
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From News

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×