Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Only Vegetarian Students Can Get Gold Medal Pune University

सिर्फ वेजिटेरियन स्टूडेंट को ही मिलेगा गोल्ड मिडल, पुणे यूनिवर्सिटी ने जारी की विज्ञप्ति

यूनिवर्सिटी द्वारा खानपान को लेकर भेदभाव करने से स्टूडेंट्स ने नाराजगी जताई है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 10, 2017, 01:56 PM IST

सिर्फ वेजिटेरियन स्टूडेंट को ही मिलेगा गोल्ड मिडल, पुणे यूनिवर्सिटी ने जारी की विज्ञप्ति
पुणे.महाराष्ट्र की सावित्रीबाई फुले यूनिवर्सिटी ने गोल्ड मेडल देने के लिए एक सर्कुलर जारी किया। जिसमें स्टूडेंट्स के लिए कुछ शर्तों का जिक्र है। इसके मुताबिक, गोल्ड मेडल के लिए वहीं स्टूडेंट अप्लाई कर सकेंगे, जो शाकाहारी और किसी तरह के नशे के आदी नहीं हैं। पुणे यूनिवर्सिटी के इस सर्कुलर के खिलाफ स्टूडेंट आवाज उठा रहे हैं। दरअसल, यूनिवर्सिटी ने कीर्तनकार 'शेलार मामा' के नाम पर गोल्ड मेडल देने का एलान किया है। रामचंद्र गोपाल शेलार उर्फ शेलार मामा एक जानेमाने योगी थे।

गोल्ड मेडल के लिए क्या हैं शर्तें?

1. स्टूडेंट को भारतीय संस्कृति और परंपराओं का ज्ञान होना चाहिए।
2. सिंगिंग, डांस, थियेटर और बाकी आर्ट्स में एक्सपर्ट होना चाहिए।
3. स्टूडेंट को इंडियन और इंटरनेशनल स्पोर्ट्स मेडल मिले हों। प्राणयाम और योगासन करने वालों को प्राथमिकता मिलेगी।
4. स्टूडेंट को किसी तरह के नशे की लत नहीं होनी चाहिए और उसका शाकाहारी भी होना जरूरी है।
5. रक्तदान, श्रमदान, पर्यावरण संरक्षण, प्रदूषण नियंत्रण, स्वच्छता और एड्स के लिए जागरुक करने में शामिल रहना जरूरी है।
6. 2016-17 के लिए साइंस स्ट्रीम छोड़कर बाकी स्ट्रीम के पोस्ट ग्रेजुएट स्टूडेंट ही अप्लाई कर सकते हैं।
7. स्टूडेंट को दसवीं, बारहवीं और ग्रेजुएशन में फर्स्ट या सेकंड क्लास में पास होना चाहिए।
8. पोस्ट ग्रेजुएट स्टूडेंट मौजूद नहीं होने पर ग्रेजुएट्स के नाम पर विचार किया जाएगा।

68 साल पुरानी है पुणे यूनिवर्सिटी

- बता दें कि पुणे यूनिवर्सिटी की शुरुआत 1949 में हुई थी। अब इसे सावित्रीबाई फुले यूनिवर्सिटी के नाम से जाना जाता है।
- इसे ऑक्सफोर्ड ऑफ द ईस्ट भी कहा जाता है। देश के मशहूर साइंटिस्ट वसंत गोवारिकर इसके वाइस चांसलर रह चुके हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×