Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Young Boy Arrested For Kidnapping And Ransom

10 लाख रुपए के लिए करने वाला था बच्चे को किडनैप, साजिश से पहले हुआ गिरफ्तार

पुलिस ने उसके मंसूबे पर पानी फेर दिया। और उसे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 06, 2017, 04:21 PM IST

मुंबई.गोरेगांव पुलिस ने एक बिजनेसमैन के पांच साल के बेटे को किडनैप करने की साजिश रच रहे शख्स को गिरफ्तार किया है। कम समय में ज्यादा पैसे कमाने के लिए वह बच्चे को किडनैप करना चाहता था, लेकिन पुलिस ने उसके मंसूबे पर पानी फेर दिया और उसे रंगे हाथ गिरफ्तार किया। यह है पूरा मामला.....

-पुलिस के मुताबिक उन्हें सूचना मिली थी कि सूफियान अंसारी (22) शुक्रवार को गोरेगांव स्थित जवाहर लाल नेहरू नगर के एक बिजनेस मैन के बेटे का अपहरण करने वाला है।
-जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम बिल्डिंग के आसपास खुफिया तरीके से खड़ी हो गयी और आरोपी के आने का इंतजार करने लगी।
-शुक्रवार की सुबह के करीब 11 बजे जैसे ही आरोपी बिल्डिंग में घुसा पुलिस ने उसे रंगे हाथों दबोच लिया।
-उसके पास से अपहरण के लिए लाई रस्सी, चाकू और सेलोटेप जैसा कई समान बरामद कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया ह।
कम समय में ज्यादा पैसे कमाना चाहता था

-पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया है कि वो एक टेलीकॉम कंपनी में काम करता था। उसे कम से कम समय मे ज्यादा पैसा बनाने की इच्छा थी।
-बस यही वजह थी आरोपी ने अपहरण जैसे वारदात को अंजाम देने की ठान ली। पुलिस ने बताया कि पहले आरोपी और पीड़ित जोगेश्वरी पूर्व में पड़ोस में ही रहते थे।
-लेकिन कुछ साल पहले ही पीड़ित परिवार वहां से गोरेगांव के जवाहर नगर जैसे रिहायशी इलाके में फ्लैट लेकर रहने लगा।
-पीड़ित परिवार की तरक्की देखकर आरोपी को जलन होने लगा। वो ये सोचने लगा कि पीड़ित परिवार के पास बहुत पैसा है। और उसके घर वालों से जान पहचान भी हैं।
-जिसका फायदा उठाकर उसके घर मे आसानी से जा सकता हूं और उसके बाद बच्चे की मां का हाथ पैर बांधकर उसके लड़के को उठा लूंगा।

दस लाख रुपए की मांगने वाला था फिरौती
-पुलिस के मुताबिक आरोपी वारदात को अंजाम देने के पहले पीड़ित परिवार के घर की रेकी कर इस बात की जानकारी निकाली की घर में कौन कौन रहता है।
बिजनेसमैन घर से बाहर कब जाता है और कब वापस आता है। ये सब जानकारी निकलने के बाद आरोपी सूफियान शुक्रवार को 11 बजे अपहरण की वारदात को अंजाम देने के फिराक में था। -आरोपी ने गुनाह कबूल करते हुए कहा कि वो व्यापारी के बच्चे का अपहरण कर 10 लाख रुपये फिरौती के तौर पर मांगने के फिराक में था।
-उसे कोर्ट में पेश करने पर उसको 7 नंवबर तक की पुलिस कस्टडी में भेजा गया है।
आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×