--Advertisement--

834 करोड़ के मनी लांड्रिंग मामले में मुंबई से एक सीए अरेस्ट किया गया

इस सीए पर एक फर्म के शेयरधारकों और विदेशी निवेशक के साथ धोखाधड़ी की साजिश रचने का आरोप लगाया गया है।

Danik Bhaskar | Apr 28, 2018, 09:35 AM IST
ईडी ने मुंबई से सीए को 834 करोड़ की ईडी ने मुंबई से सीए को 834 करोड़ की

मुंबई. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को करीब 834 करोड़ के मनी लांड्रिंग मामले में मुंबई के एक चार्टर्ड अकाउंटेंट को गिरफ्तार किया गया है। इस सीए पर एक फर्म के शेयरधारकों और विदेशी निवेशक के साथ धोखाधड़ी की साजिश रचने का आरोप लगाया गया है।

कई विदेशी कंपनियों के लिए काम करता था
- ईडी के अनुसार, 51 वर्षीय दिनेश जाजोदिया को पीएमएलए एक्ट के तहत मुंबई से गिरफ्तार किया गया है।
- जाजोदिया यूएई, हांगकांग और ब्रिटिश वर्जिन द्वीप समूह की कई कंपनियों में निदेशक और अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता था।
- एजेंसी उसके करीब 125 यूएस डॉलर (834.37 करोड़ रुपये) की विदेशी मुद्रा कन्वर्टेबल बांड (एफसीसीबी) को वैध करने के मामले से जुड़े होने की जांच कर रही है।

ऐसे अंजाम दिया यह पूरा घोटाला
- ईडी ने एक बयान जारी कर बताया कि जाजोदिया जियोडेसिक लिमिटेड (जीएल) के चार्टर्ड अकाउंटेंट थे। जीएल ने जाजोदिया के जरिए 834.37 करोड़ रुपये के एफसीसीबी लंदन के सिटी बैंक के जरिए बनाए और इस पैसे को अपनी विदेशी शाखा होने के नाम पर मॉरीशस की जियोडेसिक होल्डिंग्स लिमिटेड और हांगकांग की जियोडेसिक तकनीकी सॉल्यूशंस जैसी कंपनियों के खाते में ट्रांसफर कर दिया।