न्यूज़

--Advertisement--

दलित बच्चों की पिटाई का मामला, पहचान उजागर करने पर राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत दर्ज

मंगलवार को महाराष्ट्र स्टेट कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स (एमएससीपीसीआर) ने भी राहुल को नोटिस भेजा था।

Danik Bhaskar

Jun 20, 2018, 07:40 PM IST

जलगांव. जिले के जामनेर तालुका के वाकडी गांव में दलित बच्चों की पिटाई के बाद वाला वीडियो ट्विटर पर डालकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विवादों में फंस गए हैं। राहुल गांधी के खिलाफ भाजपा के विधायक राम कदम ने शिकायत दर्ज कराई है। इससे पहले मंगलवार को महाराष्ट्र स्टेट कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स (एमएससीपीसीआर) ने भी राहुल को नोटिस भेजा था। राहुल ने 15 जून को अपने ट्विटर हैंडल पर घटना का वीडियो शेयर किया था। आरोप है कि जलगांव में तलाब में नहाने को लेकर सवर्णों ने बच्चों को बेल्ट से पीटा था। इसके बाद पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था।

राहुल पर होनी चाहिए कड़ी कार्रवाई: कदम

- विधायक राम कदम ने मुंबई के बीकेसी पुलिस स्टेशन के साइबर सेल में कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ शिकायत दर्ज कराकर उनके ऊपर कड़ी कानूनी कार्यवाई की मांग की है। शिकायत दर्ज करवाने के बाद भाजपा विधायक ने कहा,"इस तरह सरेआम पीड़ितों की पहचान उजागर उन्हें मानसिक प्रताड़ना दी है। इसलिए राहुल पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

राहुल ने कहा था- मानवता भी अस्मिता बचाने का प्रयास कर रही है

- कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर वीडियो शेयर करते हुए कहा था - "महाराष्ट्र के इन दलित बच्चों का अपराध सिर्फ इतना था कि ये सवर्णों के कुएं में नहा रहे थे। आज मानवता भी आखिरी तिनकों के सहारे अपनी अस्मिता बचाने का प्रयास कर रही है।"

बिना कपड़ों के पूरे गांव में घुमाने का था आरोप
- इस मामले में दो दलित व एक आदिवासी लड़के का कसूर केवल इतना था कि दूसरी जाति से संबंधित व्यक्ति के कुएं में वो नहा रहे थे। इनमें से दो की उम्र 12 और 13 साल, जबकि एक की सिर्फ 9 साल है। इसके बाद कुछ लोगों ने उनकी बेल्ट से पिटाई की और उन्हें बिना कपड़ों के पूरे गांव में घुमाया था। वीडियो उसी दौरान का था, जिसे गांव के ही एक शख्स ने अपने फोन से तैयार किया था। जिसे राहुल गांधी ने इसका वीडियो ट्विटर पर शेयर किया था।

Click to listen..