--Advertisement--

विवाद / एफटीआईआई में फिल्म की स्क्रीनिंग में पहुंची पुलिस, छात्रों ने किया विरोध



वर्तमान में अभिनेता अनुपम खेर एफटीआईआई के अध्यक्ष हैं। वर्तमान में अभिनेता अनुपम खेर एफटीआईआई के अध्यक्ष हैं।
  • कबीर कला मंच पर बनी है यह फिल्म
  • पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष हरिशंकर नचिमुथु ने किया है इस फिल्म का निर्माण
Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 08:17 PM IST

पुणे.  फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट(एफटीआईआई) में छात्रों और प्रशासन के बीच फिर एक बार विवाद खड़ा होता नजर आ रहा है। छात्र संघ की ओर से हाल ही में प्रतिबंधित 'कबीर कला मंच' पर बनी फिल्म 'होरा' की स्क्रीनिंग रखी गई थी। विवाद हॉल में स्पेशल ब्रांच के पुलिस ऑफिसर्स की मौजूदगी को लेकर हुआ है।

क्या है छात्रों का आरोप?

  1. एफटीआईआई की सफाई

    एफटीआईआई डायरेक्टर ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा, \"छात्रों की फिल्म की स्क्रीनिंग के दौरान पुलिस की मौजूदगी की मुझे जानकारी नहीं है। लेकिन छात्रों और संस्थान की सुरक्षा के मद्देनजर राज्य और केंद्रीय कानून प्रवर्तन एजेंसियों की एंट्री नहीं रोकी जाएगी।\" इससे पहले स्क्रीनिंग रोकने पर संस्थान की ओर से कहा गया था,\"फिल्म देखने के लिए बाहर के लोगों को इंवाइट किया गया था। इसलिए इसे रोका गया।\"

  2. क्या है फिल्म में?

    यह प्रोजेक्ट फिल्म \'होरा\' को हरिशंकर नचिमुथु ने बनाया है। इसकी कहानी, विवादित \'कबीर कला मंच\' के बारे में है। हरिशंकर नचिमुथु एफटीआईआई छात्र विंग के अध्यक्ष रहे हैं। उन्होंने 2015 में गजेंद्र चौहान को चेयरमैन बनाने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था।

  3. क्या है कबीर कला मंच?

    कबीर कला मंच एक सांस्कृतिक संस्था है। जिसका निर्माण पुणे में हुआ था। 2002 गुजरात दंगों के बाद कई सारे छात्रों ने मिलकर इसे बनाया। इस संस्था का उद्देश्य संगीत-कविता के जरिए एंटी-कास्ट और प्रो-डेमोक्रेसी मैसेज को बढ़ावा देना है। इस संस्था पर कई तरह के आरोप लगे हैं।