--Advertisement--

पुणे / भाजपा विधायक पर प्राइवेट कंपनी से 50 लाख की रंगदारी मांगने का आराेप, केस दर्ज



विधायक ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है। विधायक ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है।
X
विधायक ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है।विधायक ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है।

  • पुणे की हड़पसर सीट से विधायक योगेश तिलेकर ने ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के लिए मांगी रंगदारी

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 03:31 PM IST

पुणे. भारतीय जनता पार्टी के विधायक योगेश तिलेकर पर रंगदारी का केस दर्ज हुआ है। इस मामले में उनके भाई चेतन तिलेकर और उसके साथी गणेश कामठे को भी आरोपी बनाया गया है। आरोप है कि तीनों ने एक प्राइवेट कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर से उनके क्षेत्र में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने की इजाजत देने के बदले 50 लाख रुपए की रंगदारी मांगी थी।

 

तिलेकर ने आरोप का खंडन किया है। इविजिन इन्फ्रा प्राइवेट लिमिटेड के एरिया मैनेजर रवींद्र बरहटे की शिकायत पर विधायक के खिलाफ हड़पसर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई।

 

विधायक की सफाई

  1. विधायक तिलेकर का कहना है कि उनके खिलाफ एफआईआर करने के लिए और उनकी छवि खराब कर उनके 22 साल के राजनीतिक करियर को 2019 के चुनावों से पहले खराब करने के लिए कुछ लोगों ने साजिश की है। उन्होंने कहा, "मैंने कॉर्पोरेटर और विधायक के तौर पर हदसपुर क्षेत्र में विकास का बहुत सारा काम किया है। मैंने किसी से व्यक्ति से पैसे नहीं मांगे। मैं चाहता हूं कि मेरे और दूसरों के खिलाफ झूठी शिकायत के पीछे के सच को पता करने के लिए पुलिस विस्तृत जांच करे।"

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..