Hindi News »Maharashtra »Pune »News» Family Members Of Patients Get Free Accommodation In Maharashtra.

राजस्व मंत्री पाटील ने कहा: मरीजों के परिजनों के आवास की व्यवस्था करेगी सरकार

निजी संस्थाओं की मदद से मरीजों के रहने और उनके भोजन की व्यवस्था की जाएगी।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - May 08, 2018, 10:12 AM IST

  • राजस्व मंत्री पाटील ने कहा: मरीजों के परिजनों के आवास की व्यवस्था करेगी सरकार
    +1और स्लाइड देखें
    राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटील।

    मुंबई. राज्यभर के ग्रामीण इलाकों से मरीजों को मुंबई लेकर आने वाले परिजनों के महानगर में रहने की व्यवस्था राज्य सरकार करेगी। इसके लिए प्रदेश के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटील ने पहल की है। पाटील मरीजों के परिजनों को रहने के लिए उपनगर के सायन इलाके में किराए पर जगह खोज रहे हैं। जिसमें निजी संस्थाओं की मदद से मरीजों के रहने और उनके भोजन की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए सरकार अपनी तरफ से कोई निधि खर्च नहीं करेगी।

    मरीजों के परिजनों को होती है बड़ी दिक्कत
    - मंत्री पाटील के कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य के ग्रामीण इलाकों से मुंबई के टाटा कैंसर अस्पताल और केईएम जैसे बड़े अस्पतालों में इलाज के लिए मरीजों और उनके परिजनों को आना पड़ता है।
    - परिजन इस शहर में दो-चार दिन ठहरने की व्यवस्था कर लेते हैं लेकिन कई बार मरीजों को गंभीर बीमारी होती है। उनका स्वास्थ्य ठीक होने में महीनों लग जाता है। ऐसे में परिजनों को यहां रहने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इसके मद्देनजर यह व्यवस्था की जा रही है।

    पांच रुपए में मिल रहा भोजन
    - अधिकारी ने कहा कि कोल्हापुर में मंत्री पाटील ने एक निजी संस्था की मदद से पांच रुपए में भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई है। जिसका लाभ विद्यार्थयों के साथ-साथ नौकरीपेशा लोग भी ले रहे हैं। इस तरह की सेवा मरीजों के परिजनों के लिए भी उपलब्ध कराने का विचार है।

  • राजस्व मंत्री पाटील ने कहा: मरीजों के परिजनों के आवास की व्यवस्था करेगी सरकार
    +1और स्लाइड देखें
    कई निजी संस्थाओं की मदद से मरीजों के रहने और उनके भोजन की व्यवस्था की जाएगी।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×