पुणे / धूमधाम से की जा रही है बप्पा की विदाई, सुरक्षा के कड़े इंतजाम



कस्बा गणपति की पूजा करते सांसद गिरीश बापट। कस्बा गणपति की पूजा करते सांसद गिरीश बापट।
X
कस्बा गणपति की पूजा करते सांसद गिरीश बापट।कस्बा गणपति की पूजा करते सांसद गिरीश बापट।

  • ढोल पथक में वादक और उनके सहयोगी, ऐसे 100 लोगों की टीम को  परमिशन दी गई है
  • 16 क्विक रिस्पांस टीम, 7 बीडीडीएस की टुकड़ी, 700 होमगार्ड, 30 हजार स्वयंसेवक, रिटायर्ड पुलिस अधिकारी व कर्मचारी, एनएसएस और एनसीसी के विद्यार्थी बंदोबस्त में शामिल रहेंगे

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2019, 04:47 PM IST

पुणे. यहां भी बप्पा को धूमधाम से विदा किया जा रहा है। पुणे के ग्रामदेवता कसबा गणपति समेत सभी प्रमुख गणपति मंडल शोभयात्रा निकाल कर बप्पा को विदाई दे रहे हैं।

 

पुणे में महात्मा फुले मंडई में लोकमान्य तिलक की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद महापौर मुक्ता तिलक, सांसद गिरीश बापट, विधान परिषद के उपाध्यक्ष नीलम गोरहे, विधायक अनंत गाडगिल और विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के नेतृत्व में जुलूस शुरू हुआ। 

 

विसर्जन यात्रा को देखते हुए शहर के ट्रैफिक में बदलाव किया गया है। ज्यादातर सरकारी और प्राइवेट संस्थान आज बंद हैं। 

 

पुणे महानगरपालिक की और से दी गई जानकारी के अनुसार, शहर में इस साल करीब साढ़े चार लाख गणेश मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा। इसके लिए मुला व मुठा नदी तट पर करीब 22 घाट बनाए गए हैं। इन घाटों के साथ ही करीब 46 हौद भी तैयार किए गए हैं। 

 

पुलिस कमिश्नर के. वेंकटेशम ने कहा कि पुणे के पांच प्रतिष्ठित गणेश मंडलों के अलावा प्रमुख गणेश मंडलों के गणपति के विसर्जन-जुलूस सुबह 10 बजे लोकमान्य तिलक पुतले से शुरू होगा। प्रमुख विसर्जन-जुलूस के लिए लक्ष्मी रोड, तिलक रोड, कुमठेकर और केलकर रोड पर डीसीपी और सहायक आयुक्तों के नेतृत्व में सेक्टर वार बंदोबस्त तैनात किया गया है।

 

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

पुलिस कमिश्नर के. वेंकटेशम ने कहा कि इस मार्ग के विसर्जन-जुलूस में 1602 मंडल शामिल होंगे।  इसमें चार अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर, 12 डीसीपी, 27 एसीपी, 150 पुलिस इंस्पेक्टर, 461 सब-इंस्पेक्टर, 7,457 पुलिसकर्मी, एसआरपीएफ की दो टुकड़ियां तैनात की जाएगी। इसके अलावा इन प्रमुख मार्गों में वीडियो वॉल लगाए जाएंगे। इस मार्ग में विसर्जन-जुलूस के लिए 269 सीसीटीवी कैमरे द्वारा नजर रखी जाएगी। फरासखाना पुलिस स्टेशन में हेड कंट्रोल रूम होगा।

 

इनके अलावा 16 क्विक रिस्पांस टीम, 7 बीडीडीएस की टुकड़ी, 700 होमगार्ड, 30 हजार स्वयंसेवक, रिटायर्ड पुलिस अधिकारी व कर्मचारी, एनएसएस और एनसीसी के विद्यार्थी बंदोबस्त में शामिल रहेंगे।

 

ट्रैफिक प्रतिबंधित किया गया 

गुरुवार को विसर्जन के दिन सुबह 7 बजे से शिवाजी रोड, लक्ष्मी रोड, बगाड़े रोड, बाजीराव रोड, कुमठेकर रोड, गणेश रोड, केलकर रोड, गुरुनानक रोड, तिलक रोड, शास्त्री रोड, नल स्टॉप से खंडोजीबाबा चौक के बीच के कर्वे रोड, फर्ग्युसन रोड, भांडारकर रोड, सातारा रोड के वोल्गा चौक से जेधे चौक रोड, सोलापुर रोड के सेवन लब्ज चौक से जेधे चौक और प्रभात रोड जगह-जगह ट्रैफिक के लिए बंद रखी गई है।

 

ढोल पथक के पास पुलिस पास अनिवार्य

ढोल पथक में वादक और उनके सहयोगी, ऐसे 100 लोगों की टीम को  परमिशन दी गई है। पथक में शामिल होने पुलिस का 'पास' होना अनिवार्य है। ढोल पथक को शहर के मुख्य भागों में बड़े वाहन लाने पर रोक लगाई गई है। तय किये गये चौक में ही ढोल बजाया जा सकता है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना