पुणे / सीसीटीवी कैमरे की वजह से टला मुंबई-पुणे रेल रूट पर बड़ा हादसा, पहाड़ से ट्रैक पर गिर रहे थे बड़े पत्थर



यह घटना सुरंग में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। यह घटना सुरंग में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है।
X
यह घटना सुरंग में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है।यह घटना सुरंग में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है।

  • दुर्घटना के चलते पांच से ज्यादा ट्रेन प्रभावित हुईं
  • पिछले साल भी इसी जगह रेलवे ट्रैक पर पत्थर गिरे थे

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2019, 11:05 AM IST

पुणे. मुंबई और पुणे रेल रूट पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी होने के चलते एक बड़ा रेल हादसा टल गया। खंडाला के पास स्थित मंकी हिल और ठाकुरवाड़ी स्टेशनों के बीच ड्राइवर ने सही समय पर लैंड स्लाइड होते देखी तो ट्रेन को समय रहते रोक लिया। इसके बाद रेल यातायात काफी समय तक बंद रहा। इससे कई ट्रेनें प्रभावित हुईं।

 

गुरुवार रात करीब 8.30 बजे पहाड़ से बड़े-बड़े बोल्डर एक सुरंग के पास पटरियों पर गिरे। जिस दौरान यह पत्थर गिर रहे थे, तभी सामने से सहयाद्री एक्सप्रेस आ रही थी। ट्रेन के ड्राइवर ने सीसीटीवी की वजह से सही समय पर यह देख लिया और हादसे वाली जगह से कुछ दूर पहले ट्रेन को रोककर बड़ी दुर्घटना को टाल दिया।

 

सीसीटीवी की वजह से टला बड़ा हादसा

मॉनसून के दौरान निगरानी के लिए मुंबई-पुणे रेल मार्ग पर घाट के पास लगाए गए सीसीटीवी कैमरे गुरुवार रात उपयोगी साबित हुए और पत्थर गिरने की जानकारी ट्रेन ड्राइवर को सही समय पर हो गई।

 

सतर्क निगरानी कर्मचारियों की वजह से टला बड़ा हादसा 

मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि निगरानी कर्मचारियों ने न केवल उच्च अधिकारियों को सतर्क किया, बल्कि यह भी सुनिश्चित किया कि ओवरहेड उपकरणों के बिजली की आपूर्ति बंद कर दी जाए और आने वाली ट्रेनों को समय पर रोक दिया जाए।

 

उन्होंने कहा कि 2.3 मीटर लंबा, 1.6 मीटर ऊंचा और 2.2 मीटर चौड़ा यह बोल्डर बड़ा नुकसान कर सकता था अगर इससे कोई ट्रेन टकरा जाती।

 

लोनावाला में यात्रियों को दिया गया पानी 

उदासी ने बताया कि इस घटना के बाद ट्रेन को ठाकुरवाडी स्टेशन वापस ले जाया गया और वहां से दो घंटे की देरी के बाद पुणे के लिए ट्रेन रवाना हुई।लगभग 11 बजे ट्रेन लोनावाला पहुंचने पर यात्रियों को स्नैक्स और पानी उपलब्ध कराया गया।

 

कई ट्रेन प्रभावित

मध्य रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि इस दुर्घटना के चलते कल्याण रेलवे स्टेशन के पास पांच लंबी दूरी की ट्रेनें तकरीबन पांच घंटे तक फंसी रहीं। पटरियों के साफ होते ही ट्रेनें फिर से शुरू हो जाएंगी। बता दें कि पिछले साल इसी स्थान पर पटरियों पर भारी बोल्डर गिरे थे। एक ट्रेन की छत पर भी बोल्डर गिरा था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना