विज्ञापन

रातभर की राहत के बाद नागपुर में फिर बारिश शुरू, स्कूल, कॉलेज बंद किए गए

Dainik Bhaskar

Jul 07, 2018, 09:22 AM IST

शुक्रवार को भारी बारिश और ड्रेनेज सिस्टम के चोक हो जाने की वजह तकरीबन आधे शहर में कमर तक पानी भर गया था।

पानी में फंसे लोगों को कुछ इस अ पानी में फंसे लोगों को कुछ इस अ
  • comment

नागपुर. रातभर की राहत के बाद नागपुर में शनिवार सुबह से ही भारी बारिश हो रही है। जिन इलाकों में कल पानी निकल गया था वहां फिर से पानी भरने लगा है। इससे पहले शुक्रवार को केवल 9 घंटे में(सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक) 265 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। मौसम विभाग ने आज पूरे दिन भारी बारिश की चेतावनी जारी की है, जिसके बाद शहर के सभी स्कूल, कॉलेज और सरकारी ऑफिस बंद कर दिए गए हैं। इससे पहले शुक्रवार को भारी बारिश और ड्रेनेज सिस्टम के चोक हो जाने की वजह तकरीबन आधे शहर में कमर तक पानी भर गया था। सड़कों पर गाड़ियां डूब गई थी। लोग कई घंटे तक घरों में फंसे रहे थे। हॉस्पिटल के वार्ड में पानी भर गया था। यहां तक कि विधानसभा परिसर में पानी भर जाने के कारण सड़क की कार्यवाही को स्थगित कर दिया गया था।

आफत में फंसी 500 बच्चों की जान

- बारिश के चलते कल नागपुर के पिपला इलाके आदर्श संस्कार स्कूल के 500 बच्चों की जिंदगी खतरे में पड़ गई थी। 500 के करीब बच्चे स्कूल में ही फंस गए। सुबह जब बच्चे स्कूल पहुंचे तब तक तो हालात सामान्य थे लेकिन धीरे धीरे पानी इतना बढ़ गया कि स्कूल के अंदर तक पहुंच गया। स्कूल ने तुरंत पुलिस को सूचना दी और पुलिस ने बच्चों को नाव और ट्रकों के सहारे निकालना शुरू किया। अगले 48 घंटे में भी भारी बारिश की चेतावनी की वजह से स्कूलों को शनिवार को बंद रखा गया है।

राजभवन में भरा पानी
- शुक्रवार को भारी बारिश के कारण राजभवन में पानी भर गया था। राजभवन के बिजली सप्लाइ रूम में पानी भरने से बिजली काटनी पड़ी और सारा काम दिनभर ठप रहा। जलभराव के कारण शहर में यातायात भी बाधित रहा। नागपुर के अलावा विदर्भ के दूसरे इलाकों में भी तेज बारिश हुई। नागपुर महानगरपालिका और नैशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स ने हुडकेश्वर इलाके में फंसे लोगों को निकाला।

1994 में हुई थी 304mm बारिश
- मौसम विभाग के उपमहानिदेशक जेआर प्रसाद ने बताया कि शुक्रवार को सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे के बीच 265mm बारिश रिकॉर्ड की गई। उन्होंने बताया कि इससे पहले 12 जुलाई, 1994 को 24 घंटे में 304mm बारिश हुई थी जो अब तक सबसे ज्यादा रही है और शुक्रवार को हुई बारिश ने उस रेकॉर्ड को तोड़ा हा या नहीं, यह बात शनिवार को साफ हो जाएगी।

सीएम ने लिया स्थिति का जायजा
मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने नागपुर नगर पालिका के कंट्रोल रूम में जाकर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने सीनियर अधिकारियों के साथ जरूर कदम उठाए जाने को लेकर चर्चा भी की।

X
पानी में फंसे लोगों को कुछ इस अपानी में फंसे लोगों को कुछ इस अ
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन