सर्वे / पुणे में 25 प्रतिशत लोग नहीं लगाते घरों में ताला, 30 % तिजोरी में रखते हैं कीमती सामान



Pune residents don't lock doors while stepping-out of their homes
X
Pune residents don't lock doors while stepping-out of their homes

  • पिछले कुछ सालों के दौरान पुणे शहर वरिष्ठ नागरिकों, महिलाओं और बच्चों के लिए काफी सुरक्षित माना गया है
  • ये सर्वेक्षण पुणे सहित देश भर के प्रमुख मेट्रो शहरों में आयोजित किए गए थे

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2019, 05:27 PM IST

पुणे. यहां रहने वाले 25 प्रतिशत लोग अपने घर से बाहर निकलते समय दरवाजा बंद करना भूल जाते हैं। यह खुलासा हुआ है एक सर्वे के माध्यम से। सर्वे के मुताबिक, वे अपनी घरों की सुरक्षा के लिए अपने सिक्यूरिटी गार्ड और सोसाइटी में लगे कैमरों पर भरोसा करते हैं। सर्वे के मुताबिक, पिछले कुछ सालों के दौरान पुणे शहर वरिष्ठ नागरिकों, महिलाओं और बच्चों के लिए काफी सुरक्षित माना गया है।

 

क्या है इस सर्वे में?

गोदरेज सिक्योरिटी सॉल्यूशंस ने पिछले तीन महीनों के दौरान शहर के विभिन्न हिस्सों का सर्वेक्षण किया है। इसके अनुसार सुरक्षा जागरूकता मानदंडों में, पुणे देश के अन्य शहरों की तुलना में सबसे पीछे है। यहां के 25 प्रतिशत स्थानीय लोग अक्सर घर से बाहर निकलने के दौरान अपने घर को बंद करना भूल जाते हैं।

 

16 प्रतिशत हिस्सा ही सीसीटीवी कैमरे से कवर: सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाने के संदर्भ में भी पुणे के लोग पीछे दिखते हैं। देश के अन्य प्रमुख शहर जहां उनका 43 प्रतिशत हिस्सा सीसीटीवी कैमरे की नजर में है, पुणे शहर के 16 प्रतिशत हिस्से में ही सीसीटीवी कैमरें लगे हैं। ये सर्वेक्षण पुणे सहित देश भर के प्रमुख मेट्रो शहरों में आयोजित किए गए थे।

 

केवल तीस प्रतिशत तिजोरी में रखते हैं कीमती सामान: पुणे के केवल 30 प्रतिशत निवासी कीमती सामान रखने के लिए लॉकर का विकल्प पसंद करते हैं। वहीं 27.5 प्रतिशत लोग जो घर का दरवाजा बंद करते हैं, वो उसकी चाभी वहीं दरवाजे के बगल में रखने की तरजीह देते हैं। 10 में से तीन लोगों ने घर छोड़ने से पहले खिड़कियों को बंद करने के बारे में सचेत नहीं होने की बात स्वीकार की है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना