पुणे / आरटीआई कार्यकर्ता की हत्या, 8 दिन पहले हुआ था अपहरण

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2019, 01:07 PM IST


आरटीआई कार्यकर्ता विनायक सुधाकर शिरसाट( फाइल फोटो) आरटीआई कार्यकर्ता विनायक सुधाकर शिरसाट( फाइल फोटो)
X
आरटीआई कार्यकर्ता विनायक सुधाकर शिरसाट( फाइल फोटो)आरटीआई कार्यकर्ता विनायक सुधाकर शिरसाट( फाइल फोटो)
  • comment

  • फिलहाल हत्या का कारण अभी स्पष्ट नहीं है
  • मृतक के भाई ने कपड़ों और मोबाइल फोन से की शिनाख्त

पुणे. जिले के ग्रामीण इलाके शिवणे में एक आरटीआई कार्यकर्ता विनायक की अपहरण के बाद हत्या कर दी है। मंगलवार सुबह उसका शव मुलशी तहसील के पिरंगुट-लवासा हाइवे से बरामद हुआ। उनके भाई किशोर ने कपड़ों और मोबाइल फोन से विनायक की पहचान की। पुलिस ने उनके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फिलहाल हत्या का कारण अभी स्पष्ट नहीं है।

 

पुणे पुलिस के मुताबिक, 32 वर्षीय विनायक सुधाकर शिरसाट का 8 दिन पहले अपहरण हो गया था। विनायक के गायब होने की शिकायत उनके भाई किशोर शिरसाट ने पुणे के भारती विद्यापीठ पुलिस थाने में दर्ज करवाई थी। मामले की जांच के दौरान पुलिस को उनके मोबाइल की अंतिम लोकेशन पिरंगुट-लवासा हाईवे पर मिली। पुलिस ने इलाके में छानबीन शुरू की तो उनका शव हाईवे से सटे एक जंगल से बरामद हुआ। शव बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन