पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अहमदनगर: 2 शिवसेना नेताओं की हत्या के मामले में एनसीपी और बीजेपी के MLA अरेस्ट

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

अहमदनगर.  महाराष्ट्र पुलिस ने शिवसेना के 2 नेताओं की हत्या के मामले में सोमवार को एनसीपी विधायक संग्राम जगताप और भाजपा विधायक शिवाजी कार्डिले को गिरफ्तार किया। समर्थकों के विरोध के चलते इलाके में तनाव है और अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिस ने 7 अप्रैल को अहमदनगर में हुई हत्या के केस में जगताप, कार्डिले और एनसीपी के दूसरे विधायक अरुणकाका को आरोपी बनाया है। तीनों विधायकों पर हत्या की साजिश रचने का आरोप है। बता दें कि संग्राम जगताप अहमदनगर सिटी और शिवाजी कार्डिले अहमदनगर की राहुरी सीट से विधायक हैं।

 

साजिश के तहत हत्या की गई: पुलिस

 

- अहमदनगर पुलिस के मुताबिक, हमलावरों ने वारदात को अंजाम देने के लिए शनिवार को शिवसेना नेता संजय कोटकर और वसंत ठुबे की गाड़ियों का पीछा किया। उन्हें रोककर ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं।

- एसडीओपी अक्षय शिंदे ने बताया कि अभी जांच जारी है। इसके बाद ही हत्या के पीछे की वजह पता चलेगी। आगे और गिरफ्तारियां हो सकती हैं। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिस को 12 अप्रैल तक एनसीपी और बीजेपी विधायकों की कस्टडी मिली है।

 

तोड़फोड़ करने वाले कई शिवसैनिक भी गिरफ्तार

 

 

 

- शिवसेना नेताओं की हत्या के बाद अहमदनगर के समर्थ पुलिस स्टेशन में शिवसैनिकों ने तोड़फोड़ की थी। इस मामले में 40 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। करीब एक दर्जन की गिरफ्तारी हो चुकी है।

 

उपचुनाव में भाजपा-शिवसेना को हार मिली

- अहमदनगर के शाहुनगर इलाके में शनिवार को स्थानीय उपचुनाव के नतीजों के बाद शिवसेना नेता संजय कोटकर और वसंत ठुबे की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वारदात के बाद दोनों के शव काफी देर तक सड़क पर पड़े रहे।

- बता दें कि उपचुनाव में भाजपा-शिवसेना को हराकर कांग्रेस के विशाल कोटकर विजयी घोषित हुए। वे पूर्व महापौर की हत्या के मामले में सजा काट रहे संदीप कोटकर के भाई हैं।

 

खबरें और भी हैं...