• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • In Gujari Village Of Dhar, The Youth Is Paying EMI Every Month; Terror Of Monkeys Became Election Issue

बंदरों ने घर तोड़ा, पत्नी के नाम पर लिया लोन:धार के गुजरी गांव में युवक हर माह भर रहा ईएमआई; बंदरों का आतंक बना चुनावी मुद्दा

इंदौर6 दिन पहलेलेखक: अमित सालगट
पेड़ों पर बैठे बंदर

धार जिले के धरमपुरी विधानसभा का गांव गुजरी। इस पंचायत में करीब 6 हजार की जनसंख्या है। 2929 वोटर हैं। इस बार यहां ST महिला के लिए सीट आरक्षित है। गांव के लोग बंदरों के कारण खासे परेशान है। 6 महीने के अंदर अब तक बंदर 30 से ज्यादा लोगों को काट चुके हैं। बंदर घरों में तोड़ फोड़ करते है। घरों-दुकानों से सामान उठाकर ले जाते हैं। यहां एक ऐसा शख्स भी मिला जिसके घर की छत को बंदरों ने तोड़ दिया। पत्नी के नाम से स्वसहायता समूह से लोन लेकर उन्होंने अपने घर की रिपेयरिंग कराई। वे हर माह किस्त भर रहे हैं।

दैनिक भास्कर ऐप का चुनावी रथ और टीम ने गुजरी पंचायत की जमीनी हकीकत जानी। गांव में बंदरों की समस्या बड़ा चुनावी मुद्दा है। शाकिर मंसूरी ने बताया कि बंदरों के कारण उन्हें लोन भी लेना पड़ा है। बंदर उछल कूद करके उनके घर पर लगी पन्नियों को फाड़ देते हैं। वे इसकी रिपेरिंग या बदलवाने के लिए 4 साल से महिला स्वसहायता समूह से पत्नी के नाम पर लोन (15 हजार रुपए) लेते हैं।

लोन की कट रही किस्त
लोन की कट रही किस्त

इस लोन की हर महीने किस्त भरते है। उनकी छोटी सी दुकान है। बंदर कभी यहां से सामान लेकर भाग जाते है। ग्रामीण कमलेश वर्मा का कहना है की वे ठेला लगाते है। बंदर उनके ठेले से कभी कचोरी ले जाते है तो कभी समोसे। इसके अलावा गांव में नालियों और सड़कों की समस्या भी बड़ी है। इस समस्या का आज तक समाधाान नहीं हो सका है।

गांव में 100 से ज्यादा बंदर
ग्रामीणों ने बताया की फिलहाल गांव में बंदरों की 3 से 4 टीमें है। एक टीम में छोटे-बड़े मिलाकर 20-25 बंदर है। यहां कुछ वक्त पहले एक बंदर पागल हो गया था, जिसने 25-30 लोगों को काटा था। शिकायत के बाद वन विभाग की टीम सिर्फ उसी बंदर को पकड़कर ले गई। 13 साल के लोकेश बृजवासी ने बताया की वह करीब 5 माह पहले साइकिल का पंचर बनाने जा रहा था तभी उसे बंदर ने कमर के पास काट लिया था। 6 इंजेक्शन और 4 टांके लगाना पड़े। यहां के सरकारी अस्पताल की मेडिकल ऑफिसर डॉ. मनीषा पटेल ने बताया जनवरी से अभी तक 30 से ज्यादा एनिमल बाइट के केस आ चुके है, एनिमल बाइट में एंटीरेबीज इंजेक्शन लगाया जाता है।

13 साल के लड़के को काट चुका है बंदर
13 साल के लड़के को काट चुका है बंदर

इस बार 5 प्रत्याशी सरपंच पद की कर रहे दावेदारी
यहां 5 सरपंच पद के प्रत्याशी है इनमें रामकुंवर बाई काशीराम बुंदेला, कुसुम जियालाल जाधव, सुशीला विक्रम सिंह वास्केल, रूपा मुकेश भूरिया, लक्ष्मी मुकेश बघेल चुनावी मैदान में है। लक्ष्मी बघेल का कहना है की ग्रामीणों की अन्य समस्याओं के साथ ही बंदरों की समस्या भी दूर करूंगी। वही सरपंच प्रत्याशी रामकुंवर बाई का कहना है की प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान, सड़कों के अलावा स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने पर फोकस रहेगा।

MP पंचायत चुनाव प्रोसेस पर A to Z:क्या है पंचायत, कैसे काम करती है, कैसे चुनते हैं पंच, सरपंच और जनपद सदस्य, VIDEO में देखिए