--Advertisement--

जागरुकता शिविर में बताया मध्यस्थता का महत्व

आमला| व्यवहार न्यायालय परिसर में सोमवार को मध्यस्थता जागरूकता शिविर आयोजित हुआ। शिविर में शामिल वकीलों और...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:10 AM IST
आमला| व्यवहार न्यायालय परिसर में सोमवार को मध्यस्थता जागरूकता शिविर आयोजित हुआ। शिविर में शामिल वकीलों और पक्षकारों को संबोधित करते हुए न्यायाधीश मीना शाह ने कहा कि वकील की मध्यस्थता से पक्षकारों के बीच सुलह संभव होती है। शिविर को न्यायाधीश धर्मेंद्र खंडायत ने भी संबोधित किया। खंडायत ने सोमवार को व्यवहार न्यायालय में करीब 1 साल से खाली पद पर ज्वाइनिंग दी है। शिविर में अधिवक्ता संघ अध्यक्ष वेदप्रकाश साहू, सचिव दिनेश सोनी सहित बड़ी संख्या में वकील और पक्षकार उपस्थित थे।