न मिलादुन्नबी का जुलूस निकला और न ही गुरु पर्व की प्रभातफेरी

Ashoknagar News - गुरुद्वारे में गुरुवाणी का पाठ करते श्रद्धालु। अशोकनगर| अयोध्या फैसले को लेकर दूसरे दिन भी जिले में अलर्ट जारी...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 06:31 AM IST
Ashoknagar News - mp news neither the procession of miladunnabi came out nor the prabhatferi of guru parv
गुरुद्वारे में गुरुवाणी का पाठ करते श्रद्धालु।

अशोकनगर| अयोध्या फैसले को लेकर दूसरे दिन भी जिले में अलर्ट जारी रहा। पुलिस और प्रशासन लगातार गश्त पर रही। शहर के प्रमुख चौराहों पर पुलिस बल तैनात रहा। धारा 144 लागू होने से ईद मिलादुन्नबी का चल समारोह एवं सिख समाज की रोजाना निकलने वाली प्रभातफेरी नहीं निकाली गई। जहां ईद मिलादुन्नबी पर मस्जिद में ही कुरानखानी की गई। वहीं प्रभातफेरी न निकलने पर सिख समाज ने गुरुद्वारे पर ही गुरुवाणी का पाठ किया।

दरअसल 1 से 10 नवम्बर तक प्रतिदिन सुबह 5 बजे गुरुद्वारे से गुरु पर्व के उपलक्ष्य में प्रभातफेरी निकाली जा रही थी, लेकिन धारा 144 लागू होने से इस बार अंतिम दिन प्रभातफेरी नहीं निकाली जा सकी। अरदास के बाद ज्ञानी बक्शीश सिंह जी ने धारा 144 का पालन करने की बात कही। गुरुद्वारा कमेटी प्रधान सुखविंदर सिंह भुल्लर ने बताया कि गुरु पर्व पर नगर कीर्तन 12 नवम्बर को निकाला जाएगा। यह कीर्तन गांधी पार्क, इंदिरा पार्क, स्टेशन रोड, गांधी पार्क से पुन: गुरुद्वारे पहुंचेगा।

बेटियों को दिलाया सम्मान

मौलाना हाफिज कारी गुल मोहम्मद रजवी ने कुरानखानी में पैगाम दिया कि पैगम्बर हजरत मोहम्मद साहब ने ऐसे समय में जन्म लिया जब अरब के हालात बेहद खराब थे। बच्चियों को जिंदा दफन कर दिया जाता था। विधवाओं से बुरा सलूक होता था। उस समय उन्होंने बेटियों की तामील पर जोर दिया था। बेटे और बेटी का भेद खत्म किया था। उन्होंने बताया था जो बड़ों का आदर न करे, छोटों को प्यार न करे वो हम में से नहीं यानी इस्लाम का रास्ता नहीं है।

X
Ashoknagar News - mp news neither the procession of miladunnabi came out nor the prabhatferi of guru parv
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना