• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ashta
  • जनप्रतिनिधि, प्रशासन और लोगों के बीच बना प्लान, नहीं हो सका लागू, लग रहा है जाम
--Advertisement--

जनप्रतिनिधि, प्रशासन और लोगों के बीच बना प्लान, नहीं हो सका लागू, लग रहा है जाम

यातायात परेशानी को लेकर पिछले चार सालों में पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने कई बार बैठक कर प्लान बनाए।...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:10 AM IST
यातायात परेशानी को लेकर पिछले चार सालों में पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने कई बार बैठक कर प्लान बनाए। जनप्रतिनिधियों और लोगों को साथ लेकर की गई बैठक में यातायात प्लान का खाका भी खींचा गया, लेकिन आज तक वह धरातल पर नहीं आ सका। इस समय शादियों के सीजन में प्रमुख मार्गों पर दो पहिया वाहनों की पार्किंग लोगों के लिए सिरदर्द बनी हुई है।

नगर के प्रमुख बाजारों व गलियों में अतिक्रमण होने से सड़कें वैसे ही संकरी हो चुकी हैं। सीजन को देखते हुए दुकानों का सामान सड़कों तक आ पहुंचा है। ऐसे में खरीदी के लिए आने वाले लोग अपने वाहन सड़क पर खड़े कर देते हैं। इस वजह से पैदल निकलना भी मुश्किल हो रहा है। पुलिस-प्रशासन ने तीन साल पहले भी प्लान बनाया था, लेकिन लागू नहीं हुआ। उसी से मिलता-जुलता प्लान 2016 को पुलिस-प्रशासन ने यातायात संबंधी परेशानियों को देखते हुए मानस भवन में जनप्रतिनिधि, सभी समाज के लोगों के विचारों को जानने के बाद बनाया था।

प्लान बनाते ही अधिकारियों का हो जाता है स्थानांतरण

नगर भ्रमण के बाद बनाए प्लान के चार दिन बाद ही तात्कालीन एसडीएम अभिषेक गहलोत का स्थानांतरण हो गया था। 2014 में भी तत्कालीन एसडीएम रवि सिंह ने यातायात की बैठक लेकर प्लान बनाया था। उनका भी उसी अंतराल में स्थानांतरण हो गया। यही वजह है कि नगर में अभी तक यातायात प्लान को अमल में नहीं लाया जा सका है।

नगर के बाजारों में कहीं भी खड़े कर देते हैं दुपहिया वाहन

नगर में नहीं पार्किंग जोन

मुख्य बाजारों में वाहनों की अव्यवस्था पार्किंग जोन की कमी खलने लगी है, जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इससे शहर की सुंदरता को ग्रहण भी लग रहा है। नगर की जनसंख्या 60 हजार के पार पहुंचने लगी है, लेकिन नगर में मास्टर प्लान लागू नहीं हो पाया है। हालांकि मास्टर प्लान के लिए कई बार सर्वेयर कंपनियां सर्वे कर चुकी हैं।

इन स्थानों पर अधिक समस्या

सीजन के समय नगर के बुधवारा, अस्पताल के पीछे, बड़ा बाजार, गणेश मार्केट, सब्जी मंडी, नई सब्जी मंडी, कन्नौद रोड, कॉलोनी चौराहा़ पर काफी भीड़ रहती है। जिससे आमजन को परेशानी होती है।