--Advertisement--

32वें दीक्षा दिवस पर हुई भजन संध्या

सनावद | परम पूज्य विदुषी आर्यिका 105 प्रशांत मति माता जी के 32वें दीक्षा दिवस पर वर्धमान चौक में भजन संध्या का आयोजन...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:00 AM IST
सनावद | परम पूज्य विदुषी आर्यिका 105 प्रशांत मति माता जी के 32वें दीक्षा दिवस पर वर्धमान चौक में भजन संध्या का आयोजन किया गया। सन्मति जैन काका ने बताया आर्यिका 105 प्रशांत मति माता जी के चित्र का अनावरण कमल जैन बड़वाह व महेंद्र पाठक ने किया। दीप प्रज्जवल आचार्य 108 वर्धमान सागर जी महाराज की संगस्थ ब्रह्मचारणी दीप्ति दीदी, पुष्पा बाई जैन, अचिंत जैन, वीरेंद्रकुमार बाबा ने किया। कमल जैन, प्रांशुल जैन, आदित्य पंचोलिया, पंकज जटाले, सभ्यता जैन, पूर्णिमा जैन, संगीता पाटोदी ने माता जी के प्रति अपने भजनों से सभी लोगों को नाचने पर मजबूर कर दिया। इसी बीच प्रश्न मंच प्रतियोगिता भी हुई। उन्होंने बताया माता जी का जन्म भावनगर गुजरात में हुआ है। उनकी दीक्षा पूर्व का नाम पंकज दीदी था। आप ने एक चातुर्मास सनावद व एक चातुर्मास सनावद के पास पोदनपुरम में कर के अपनी ज्ञान की गंगा बहाकर सभी उसका रस पान करवाया है। आप के संग में 2 माता जी व 1क्षुल्लक जी संगस्त है। भजन संध्या के बाद प्रभावना वितरित की गई। इस दौरान प्रशांत चौधरी, सरल जटाले, तपन जैन, शौभाग्य चंद जैन, सुरेश पंचोलिया, जीवन मामा, लोकेंद्र जैन, महेंद्र कुमार जैन, अक्षय कुमार जैन, महेंद्र मुंसी का सहयोग सहरानीय रहा।