• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Badwah
  • विधायक ने उठाया फोरलेन निर्माण में देरी का मुद्दा
--Advertisement--

विधायक ने उठाया फोरलेन निर्माण में देरी का मुद्दा

Badwah News - 100 बिस्तरीय अस्पताल का निर्माण चल रहा धीमी भास्कर संवाददाता | बड़वाह इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर भारी वाहनों के...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:10 AM IST
विधायक ने उठाया फोरलेन निर्माण में देरी का मुद्दा
100 बिस्तरीय अस्पताल का निर्माण चल रहा धीमी

भास्कर संवाददाता | बड़वाह

इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर भारी वाहनों के बढ़ते दबाव के चलते यह धीरे-धीरे किलर हाईवे में तब्दील हो रहा है। दिन-रात तेज रफ्तार से गुजरते बड़े वाहनों का बोझ उठाने में यह टू लेन हाईवे असमर्थ साबित हो रहा है। प्रशासन द्वारा हाईवे को फोरलेन में परिवर्तित करने की प्रक्रिया भी कछुआ चाल से ही चल रही है।

इस संबंध में सरकार का ध्यान आकर्षित करने व इसके निर्माण की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए क्षेत्रीय विधायक हितेंद्रसिंह सोलंकी ने इंदौर-इच्छापुर हाईवे का मुद्दा विधानसभा में उठाया। 27 फरवरी को विधानसभा में उन्होंने कहा दो राज्यों को जोड़ने वाले यह हाईवे दक्षिण राज्य को जोड़ने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने पूछा इस मार्ग को शीघ्र पूर्ण कराए जाने के संबंध में क्या कार्रवाई की जा रही है। साथ ही शासन द्वारा केंद्रीय सरकार को फोरलेन का प्रस्ताव प्रेषित किया है। इस पर लोक निर्माण मंत्री रामपालसिंह ने कहा मार्ग के जिसमें एनएच 6, एदलाबाद के पास महाराष्ट्र बार्डर, बुरहानपुर, बोरगांव, छैगांवमाखन, देशगांव, बड़वाह, इंदौर, उज्जैन, आगर और झालावाड़ एनएच 12 राजस्थान की कुल लंबाई 376 किमी है। इसके नवीन राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किए जाने के लिए सैद्धांतिक स्वीकृति दी गई है। मार्ग के नवीनीकरण के लिए एजेंसी नियुक्त की गई है। एनएचएआई द्वारा प्रस्तावित फोरलेन की डीपीआर तैयार की जा रही है।

अब तक सड़क पर 80 लाख हुए खर्च

विधायक द्वारा पूछा गया था कि 18 फरवरी 2017 को टोल की अवधि समाप्त होने के बाद रखरखाव किसके द्वारा किया जा रहा है। साथ ही दो साल तक यदि फोरलेन निर्माण नहीं होता है तो रखरखाव के लिए शासन द्वारा चालू वित्तीय वर्ष में कितनी राशि स्वीकृत की गई है। इस पर लोक निर्माण मंत्री ने जवाब दिया कि मप्र सड़क विकास निगम द्वारा हाईवे का रखरखाव किया जा रहा है। टोल बंद होने के बाद रखरखाव पर करीब 79 लाख 27 हजार 660 रुपए व्यय किए गए हैं। जबकि चालू वित्तीय वर्ष में मार्ग के नवीनीकरण के लिए 2.6 से 104 किमी का अनुबंध एसआर कंस्ट्रक्शन दिल्ली को 2347.9 लाख व 104 से 203.6 किमी के रिन्यूवल कार्य के लिए श्री कंस्ट्रक्शन छतरपुर को 2306.22 लाख में शासन द्वारा अनुबंधित किया गया है।

बढ़ाई अवधि भी खत्म

100 बिस्तरीय अस्पताल के धीरे-धीरे चल रहे निर्माण को लेकर भी विधायक ने विधानसभा में प्रश्न उठाया। विधायक ने अस्पताल के लिए स्वीकृत राशि, निविदा खुलने, कार्यादेश व भवन कार्य शुरू होने से लेकर बार-बार कार्य रोकने के कारणों की जानकारी ली। ठेकेदार को लगने वाली पैनाल्टी के बारे में भी पूछा। इस पर जानकारी मिली की 27 अक्टूबर 2014 से कार्य शुरू हुआ था। अनुबंध अनुसार 22 माह कार्य पूर्ण करने की अवधि थी लेकिन दो बार कारणवश कार्य रुका हालांकि कार्यकाल की अवधि भी जनवरी 2018 तक बढ़ा दी गई थी। इसके बावजूद कार्य पूर्ण नहीं हुआ।

X
विधायक ने उठाया फोरलेन निर्माण में देरी का मुद्दा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..