बड़वाह

--Advertisement--

सिद्धवरकूट में धामिक मेला शुरू

सिद्धवरकूट में धार्मिक मेला 28 फरवरी से 2 मार्च तक चलेगा। जिसमें सिद्ध चक्र मंडल विधान, चौबीस तीर्थंकर मंडल विधान के...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:10 AM IST
सिद्धवरकूट में धार्मिक मेला 28 फरवरी से 2 मार्च तक चलेगा। जिसमें सिद्ध चक्र मंडल विधान, चौबीस तीर्थंकर मंडल विधान के साथ विमानोत्सव, घट यात्रा निकाली जाकर भगवान बाहुबली स्वामी का महामस्तकाभिषेक होगा। संजय पंचोलिया ने बताया मेले के प्रारंभ में अष्ट दिनी सिद्ध चक्र मंडल विधान सुमत प्रकाश जैन दिल्ली द्वारा 23 फरवरी से शुरू हो चुका है।

28 को नित्य नियम पूजन, चौबीस तीर्थंकर का मंडल विधान बड़वाह के तरूण कुमार, जय कुमार, सुशीला देवी की ओर से होगा। शाम को आरती के बाद सरोज देवी के प्रवचन होंगे। 1 मार्च को सुबह श्रीजी का अभिषेक, पूजन, विधान, शाम को शास्त्र प्रवचन के साथ संगीतमय आरती होगी। विमला बिलाला परिवार इंदौर द्वारा निर्मित आचार्य श्री विद्यासागर महाराज के स्वर्ण संयम दिवस वर्ष पर 31 फीट ऊंचे कीर्ति स्तंभ का लोकार्पण समारोह होगा। श्रीजी का क्षेत्र भ्रमण, घट यात्रा के साथ भगवान बाहुबली स्वामी का क्षेत्र परिसर में महामस्तकाभिषेक, शांतिधारा होगी। विधानाचार्य नंदलाल टोंग्या व राजेंद्र जैन के सान्निध्य में होगा।

परचरी पुराण कथा : निर्गुण के बगैर मोक्ष नहीं- साद

बासवा |
ग्राम बोधगांव में चल रही परचरी पुराण कथा के चौथे दिन कथावाचक हरिराम साद ने कहा निर्गुण के बिना मोक्ष नहीं है। संत सिंगाजी महाराज कृष्ण के अवतार थे। उन्होंने सिंगाजी महाराज के जीवन काल के बारे में बताया। परमात्मा भक्तों की जरूर सुनता है। भगवान भक्त के बुरे समय में भी उसका सहयोग करते हैं। अंत में सिंगाजी महाराज की आरती के बाद हलवे की प्रसादी का वितरण भी रोजाना योग वेदांत सेवा समिति द्वारा किया जा रहा है।

Click to listen..