बड़वाह

--Advertisement--

अनुचित व अवैधानिक कार्रवाई कर मजदूरों को डरा रहे हैं सीईओ- मजदूर

जनपद पंचायत परिसर में विरोध करते श्रमिक। सीईओ ने पुलिस को पत्र लिख प्राथमिकी दर्ज करने का आवेदन दिया जनपद...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 02:00 AM IST
अनुचित व अवैधानिक कार्रवाई कर मजदूरों को डरा रहे हैं सीईओ- मजदूर
जनपद पंचायत परिसर में विरोध करते श्रमिक।

सीईओ ने पुलिस को पत्र लिख प्राथमिकी दर्ज करने का आवेदन दिया

जनपद सीईओ ने थाना प्रभारी को रैली में शामिल लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आवेदन दिया है। पत्र के माध्यम से उन्होंने बताया रैली के कुछ लोग जनपद सीईओ के कैबिन में घुस गए थे। जिससे शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न हुई। जनपद सीईओ ने इस मामले में संबंधित लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग पुलिस से की है।

रैली निकालकर अवैध उत्खनन न रोकने के लिए बना रहे दबाव-सीईओ

नहीं मानी मांग तो करेंगे उग्र आंदोलन

सेमरला निवासी यशोदा बाई, भागवत बाई व अन्य महिलाओं ने बताया हम रेत निकालने का कार्य कर बच्चों का जीवन यापन कर रहे हैं लेकिन कुछ दिन पहले अधिकारियों के गुंडों द्वारा साथ अभद्र व्यवहार कर छलनी, तगारी व अन्य सामान ले गए। तब से कार्य ठप्प पड़ा है। महिलाओं ने कहा मांगों का निराकरण न होने पर उग्र आंदोलन करेंगे। जनपद सीईओ हेमेन्द्र सिंह चौहान से जब इन आरोपों के संबंध में जानकारी ली तो उन्होंने बताया अवैध उत्खनन पर कार्रवाई करने के चलते कुछ लोग झूठा आरोप लगा रहे हैं। वरिष्ठ कार्यालय से मिले निर्देशों के आधार पर नर्मदा किनारे गांवों में अवैध उत्खनन को रोकने के लिए कार्रवाई की गई थी। मौके पर विडियोग्राफी से लेकर पंचनामा सहित ट्रैक्टर व उपकरणों की जब्ती भी की गई है। इसमें कुछ भी अनुचित व अवैधानिक नहीं है। सेमरला में कार्रवाई के दौरान कुछ रेत श्रमिकों द्वारा मेरे ऊपर पत्थर से हमले का प्रयास भी किया था। गुंडों व बदमाशों के डराने धमकाने की बात भी झूठी है। मेरे व जनपद कर्मचारियों द्वारा अवैध उत्खनन न करने की हिदायत दी गई है। जब तक शासन द्वारा रायल्टी नहीं दी जाती। क्षेत्र में अवैध उत्खनन नहीं होने दिया जाएगा। इस तरह रैली निकालकर व भीड़ एकत्र कर दबाव बनाया जा रहा है कि उन्हें अवैध उत्खनन की खुली छुट दे दी जाए।

X
अनुचित व अवैधानिक कार्रवाई कर मजदूरों को डरा रहे हैं सीईओ- मजदूर
Click to listen..