• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Begumganj
  • आज से खुलेंगे 322 सरकारी स्कूल, मातृ सम्मेलन से होगी पहले सत्र की शुरुआत
--Advertisement--

आज से खुलेंगे 322 सरकारी स्कूल, मातृ सम्मेलन से होगी पहले सत्र की शुरुआत

ब्लाक के 322 सरकारी स्कूल 2 अप्रैल से खुल जाएंगे। इस बार शैक्षणिक सत्र अप्रैल माह से शुरु किया जा रहा है। इसमें यह भी...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
ब्लाक के 322 सरकारी स्कूल 2 अप्रैल से खुल जाएंगे। इस बार शैक्षणिक सत्र अप्रैल माह से शुरु किया जा रहा है। इसमें यह भी नया है कि पहली बार सत्र की शुरुआत मातृ सम्मेलन से होगी।

तहसील के 218 प्राइमरी, 82 मिडिल और 22 हाई व हायर सेकंडरी स्कूल में अध्ययनरत करीब 32 हजार विद्यार्थियों को पहले ही दिन अपने-अपने स्कूल में लाने का लक्ष्य विभाग ने तय किया है। प्राइमरी और मिडिल स्कूलों सहित हायर व हाई स्कूलों में 32 हजार के करीब विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। इसके साथ ही जो लक्ष्य कक्षा-1, 6, 9 और 11वीं में विद्यार्थियों के दाखिले के लिए तय किया गया है, वह भी पहले ही दिन पूरा करने की योजना स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बनाई है। इसके लिए प्राचार्यों की बैठक ली जा चुकी है। प्राचार्यों ने अपने संकुल अंतर्गत आने वाले प्राइमरी और मिडिल स्कूल के प्रधानाध्यापकों को निर्देश दे दिए हैं कि वे पहले ही दिन न सिर्फ बड़ी संख्या में विद्यार्थियों को स्कूल बुलाएं, बल्कि एडमिशन का लक्ष्य भी पूर करें।

बीईओ राजेश इनवाती ने बताया कि जिन विद्यार्थियों को सप्लीमेंट्री भी आती है, उन्हें भी एडमिशन दिए जाएंगे। वहीं प्राइमरी और मिडिल स्कूलों में पहले दिन शाला प्रबंधन समिति की बैठक, विशेष बाल सभा होगी। जिसमें विद्यार्थियों के नामांकन, उपस्थिति, उपलब्धि, स्तर, अध्ययन-अध्यापन की प्रस्तावित कार्य योजना पर चर्चा की जाएगी। बीआरसी बीएस खंगार ने बताया कि प्रवेशोत्सव भी मनाया जाएगा। 11.30 बजे से 12 बजे तक रेडियो पर कार्यक्रम सुनाया जाएगा। 7 से 13 अप्रैल तक प्रत्येक स्कूल में पालक सम्मेलन होगा। 2 से 15 अप्रैल तक पात्र विद्यार्थियों को साइकिल वितरित की जाएंगी। जॉयफुल लर्निंग की गतिविधियां भी होंगी। घर-घर सर्वे कार्य 20 से 30 अप्रैल तक चलेगा।

विद्यार्थियों के हिसाब से युक्तियुक्तकरण भी होगा

जिला शिक्षाधिकारी आरपी सेन ने निर्देश जारी कर कहा है कि छात्र संख्या के मान से शिक्षकों के युक्तियुक्तकरण एवं अतिथि शिक्षकों की संख्या का आंकलन कर 15 जून से पहले यह सभी व्यवस्थाएं कर ली जाएं। अतिथि शिक्षकों के रखे जाने की व्यवस्था ऑनलाइन की जाएगी। ग्रीष्मकालीन अवकाश में विद्यार्थियों के लिए विशेष होमवर्क भी दिया जाएगा, जिससे वे अपनी पढ़ाई का रिवीजन भी करते रहें और नए शैक्षणिक सत्र के लिए पूरी तरह से अपने आप को तैयार कर लें।