--Advertisement--

ट्राली में सजाई संत की झांकी, उतारी आरती

हदाईपुर स्थित सामुदायिक भवन में अहिरवार समाज द्वारा संत रविदास जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई। पूजा अर्चना के बाद...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:30 AM IST
ट्राली में सजाई संत की झांकी, उतारी आरती
हदाईपुर स्थित सामुदायिक भवन में अहिरवार समाज द्वारा संत रविदास जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई। पूजा अर्चना के बाद नगर में शोभा यात्रा निकाली गई। शोभा यात्रा हदाईपुर से शुरू होकर दुर्गा चौक, फर्सी रोड, बस स्टैंड, कन्या स्कूल रोड, गांधी बाजार, पुराना बस स्टैंड से होती हुई वापस हदाईपुर कार्यक्रम स्थल पर पहुंची। शोभा यात्रा में गुरू रविदास की झांकी सजाई गई थी। समाज बंधुओं ने जगह जगह पुष्पवर्षा कर पूजा अर्चना की प्रसाद वितरण किया गया। शोभा यात्रा में अखाड़ों के युवा ढोलकों की थाप पर लेझमों के करतब दिखाते हुए चल रहे थे। महिलाएं मंगल गीत गाती हुई शामिल हुई। कार्यक्रम स्थल पर परसराम अहिरवार एवं कैलाश अहिरवार ने संत रविदास जी के जीवन पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर समाज प्रमुख परसराम अहिरवार, कैलाश अहिरवार, काशीराम अहिरवार, मुन्नालाल अहिरवार,महेन्द्र अहिरवार,राहुल अहिरवार, भूषणप्रसाद अहिरवार, हीरालाल अहिरवार, गणेश अहिरवार एवं लखन अहिरवार का समाज के युवाओं ने फूल मालाओं से स्वागत किया। तथा सभी समाज बंधुओं ने सामूहिक पूजा कर प्रसाद का वितरण किया।

शोभा यात्रा का हुआ कई जगह स्वागत

बरेली।ं नगर परिषद परिवार द्वारा संत रविदास की शोभा यात्रा का स्वागत किया गया। दिग्विजय परिसर के सामने संत रविदास की पूजन अर्चना कर शीतल जल पान की व्यवस्था परिषद द्वारा की गई। शोभा यात्रा होली चैक स्थित संत रविदास के मंदिर से प्रारंभ हुई। जिसमें कई सामाजिक संगठनों के साथ हिन्दू उत्सव समिति के सदस्य मौजूद थे। स्वागत करने वालो में संजय शर्मा, मुकुन्द पाराशर, मनोज राय, अंकित तिवारी, सुनील शर्मा, अनिल धाकड, हाकम सराठे, अखिलेश दुबे, राजू विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे।

निकाली शोभायात्रा

सुल्तानगंज। संत शिरोमणि रविदास महाराज की 641 वी जयंती अहिरवार समाज द्वारा उत्साहपूर्वक मनाई गई। ढोल-नगाड़ों एवं अखाड़ों की आगवानी में रविदास जी की तस्वीर को ट्राली में मंडप में सजाकर रखी गई। शोभायात्रा नगर के मुख्य मार्गो से होकर निकली। डीजे की धुन पर युवा नृत्य गान करते हुए बस स्टैंड सुल्तानगंज के संत रविदास जी के निर्माणाधीन मंदिर पर पहुंची। जहां सांस्कृतिक कार्यक्रम किए गए। शिक्षक कैलाश अहिरवार और हीरालाल अहिरवार द्वारा संत शिरोमणि की जीवनी पर प्रकाश डाला। इस मौके पर सेवानिवृत्त वनपाल भूरे प्रसाद अहिरवार, शिक्षक गनेश अहिरवार, देवी उस्ताद, राजेश अहिरवार,रमेश राहुल ज्ञानी नन्नेलाल आदि सैकड़ों लोग शामिल हुए।

X
ट्राली में सजाई संत की झांकी, उतारी आरती
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..