--Advertisement--

संविदा कर्मियों ने काली पट्टी बांधकर किया विरोध

संविदा कर्मचारी अधिकारी संघ ने मंगलवार को जुलूस निकालकर तहसील परिसर में नारेबाजी की। इसके बाद नियमितीकरण की मांग...

Danik Bhaskar | Feb 21, 2018, 04:10 AM IST
संविदा कर्मचारी अधिकारी संघ ने मंगलवार को जुलूस निकालकर तहसील परिसर में नारेबाजी की। इसके बाद नियमितीकरण की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार आरके सिंह को ज्ञापन सौंपा। सभी संविदा कर्मचारियों ने काली पट्टी बांधकर काम किया और प्रदर्शन में भी काली पट्टी बांधकर ज्ञापन दिया।

ज्ञापन में कहा गया है कि संविदा कर्मचारी अधिकारी विभिन्न विभागों में करीब 15-20 साल से कार्यरत हैं और अपने नियमितीकरण एवं समान कार्य, समान वेतन की मांग को लेकर कई बार आंदोलन कर चुके हैं। शासन द्वारा आश्वासन दिया जाकर कोई कार्रवाई आज तक नहीं की गई है। संविदा कर्मचारी अपने आप को शोषित एवं ठगा सा महसूस कर रहे हैं, जबकि शासन ने बगैर कोई परीक्षा दिए भर्ती किए गए संविदा गुरुजियों एवं शिक्षाकर्मियों को नियमित कर दिया है।

संविदा अिधकारी कर्मचारियों ने सौंपे गए ज्ञापन में मांग की गई है कि शीघ्र ही मांगों का निराकरण किया जाए अन्यथा कर्मचारी कलम बंद हड़ताल करेंगे। इस दौरान ज्ञापन सौंपने वालों में केके जाटव, संदीप शर्मा, वीरेंद्र विश्वकर्मा, धर्मेंद्र जाट, अरविंद सिंह ठाकुर, राहुल तिवारी, राकेश नागेश्वर, मो. अफजल, महेंद्र चौबे, लिली फेडरिक,लक्ष्मण सिंह गुर्जर, जितेंद्र चतुर्वेदी सहित अन्य संविदा कर्मचारी-अधिकारी शामिल थे।

प्रदर्शन

सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर कहा- मांगें पूरी नहीं हुईं तो करेंगे उग्र आंदोलन

नियमितीकरण की मांग को लेकर संविदा अधिकारी-कर्मचारियों ने दिया ज्ञापन।