• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Begumganj
  • रोजगार सहायक के पिता का बीपीएल सूची में नाम, उपसरपंच के परिवार में दो गरीबी रेखा के राशन कार्ड
--Advertisement--

रोजगार सहायक के पिता का बीपीएल सूची में नाम, उपसरपंच के परिवार में दो गरीबी रेखा के राशन कार्ड

जनपद क्षेत्र की वीरपुर पंचायत के पंचों ने मंगलवार को जनसुनवाई में आवेदन देकर रोजगार सहायक द्वारा अपात्र लोगों के...

Danik Bhaskar | Feb 21, 2018, 04:10 AM IST
जनपद क्षेत्र की वीरपुर पंचायत के पंचों ने मंगलवार को जनसुनवाई में आवेदन देकर रोजगार सहायक द्वारा अपात्र लोगों के गरीबी रेखा के राशन कार्ड निरस्त न कर पात्राें के नाम द्वेष भावना से काटने एवं शासन की योजनाओं की जानकारी पंचाें को न देकर मनमर्जी से प्रस्ताव लिखने की शिकायत की है। ग्रामीणों ने सौंपे गए आवेदन में आरोप लगाया गया है कि रोजगार सहायक भूपेंद्र सिंह 6-7 वर्ष से रोजगार सहायक के पद पर पंचायत वीरपुर में काम कर रहे हैं, जो ग्रामीणों को शासन की योजनाओं की जानकारी नहीं देते और न लाभ दिलाते हैं। पंचायत के प्रस्ताव अपनी मनमर्जी से लिखते हैं।

इस वर्ष शासन ने ग्राम पंचायत के गरीबी रेखा के राशन कार्डों की जानकारी मांगी जिससे अपात्रों के नाम काटे जाएं, तब रोजगार सहायक ने पात्रों के नाम काट दिए जिससे गरीब परेशान हैं, जबकि स्वयं रोजगार सहायक के पिता का गरीबी रेखा का राशन कार्ड है, उनके पास करीब 6-7 एकड़ कृषि भूमि भी है। वहीं उपसरपंच चरन सिंह के परिवार में दो राशन कार्ड गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाली श्रेणी के हैं। राशनकार्ड धारियों के पास करीब 20 एकड़ कृषि भूमि है। ऐसे लोगों को अपात्र नहीं ठहराया गया है। ऐसे राशनकार्ड धारियों की जांच कर उचित कार्रवाई की मांग आवेदन में की गई है।

इस दौरान आवेदन देने वालों में उपाध्यक्ष जनपद पंचायत राजकुमार सिंह, पंच उमेश पांडे, राजसिंह, धर्मेन्द्रसिंह, पूरन, जगदीश पंच, गीताबाई, पुष्पाबाई, हरज्ञान आदि शामिल हैं।