Hindi News »Madhya Pradesh »Begumganj» पुलिस व टोल टैक्स से बचने हूटर व सायरन का उपयोग

पुलिस व टोल टैक्स से बचने हूटर व सायरन का उपयोग

150 रुपए में हार्न में गूंजती है पुलिस सायरन, एंबुलेंस व वीआईपी हूटर की आवाज भास्कर संवाददाता | बेगमगंज बाजार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 22, 2018, 04:15 AM IST

150 रुपए में हार्न में गूंजती है पुलिस सायरन, एंबुलेंस व वीआईपी हूटर की आवाज

भास्कर संवाददाता | बेगमगंज

बाजार में कई छुटभैया नेता सहित सामान्य व्यक्ति रुतबा दिखाने के लिए अपने चार पहिया वाहनों में हूटर व सायरन का प्रयोग कर रहे हैं।

यह नजारा आजकल आम हो गया है। चूंकि शहर की सड़कों पर दौड़ने वाली सफारी एवं कारों और मोटर साइकिलों में इसी तरह के महत्वपूर्ण और सरकारी संकेत वाले हूटर्स और सायरन का उपयोग साधारण वाहनों में किया जा रहा है। सरकारी नियमों का खुलेआम मखौल उड़ाया जा रहा है। इस मामले में खुद सरकारी अमला भी आखों पर पट्टी बांधकर हार्न का दुरुपयोग करने वालों को अनदेखा कर रहा है।

बाजार में इस तरह के हार्न आसानी से 100-150 रुपए में उपलब्ध हैं। जिसे बजाने पर उसमें से पुलिस सायरन एंबुलेंस या वीआईपी हूटर की आवाज गूंजती है। सरकारी नियमों के मुताबिक इस तरह के हार्न का उपयोग केवल अधिकृत वाहनों में उस वक्त किया जा सकता है। जब वाहन में वीआईपी व्यक्ति सवार हो गया पुलिस वाहन किसी कार्रवाई के लिए जा रहे हो लेकिन नियम का पालन होने की बजाए अब इस तरह के सरकारी हार्न की कीमत महज 50 रुपए से 150सौ है।

टैक्स न चुकाकर रौब झाड़ते हैं

पुलिस कर्मियों का कहना है कि इस तरह के वाहन हमें देखते ही हार्न बजाना शुरू कर देते हैं। हम सोचते हैं कि किसी मंत्री या वीआईपी की गाड़ी है इस चक्कर में हम उसे रोकते नहीं। बाद में पता चलता है कि यह वाहन वीआईपी नहीं बल्कि इसका हूटर वीआईपी है।

टोल टैक्स नाके के एक कर्मचारी ने बताया कि टैक्स न चुकाने के चक्कर मे ऐसे लोग हूटर बजाते निकलते हैं कई वाहनों में सत्तारूढ़ पार्टी की दो रंग वाली पट्टी नंबर प्लेट पर बनवाए हुए हैं या फिर फर्जी तौर पर पद लिखे हुए हैं वह भी टैक्स न चुकाकर रौब झाड़ते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Begumganj

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×