--Advertisement--

डाटा एंट्री ऑपरेटर ने लगाए मनमानी के आरोप

बेगमगंज| हाई एवं हायर सेकंडरी स्कूलों में जेम पोर्टल के माध्यम से शिक्षा विभाग द्वारा लोक शिक्षण संचालनालय मप्र...

Danik Bhaskar | Jun 24, 2018, 02:05 AM IST
बेगमगंज| हाई एवं हायर सेकंडरी स्कूलों में जेम पोर्टल के माध्यम से शिक्षा विभाग द्वारा लोक शिक्षण संचालनालय मप्र द्वारा विकासखंड के स्कूलों में अस्थाई रूप से डाटा एंट्री ऑपरेटरों की नियुक्ति करने के आदेश दिए गए थे। इसमें तहसील के कई युवाओं ने आवेदन किए थे, लेकिन जब नियुक्तियां की गईं तो पांच नियुक्तियों में एक बीईओ तो दूसरे प्राचार्य पुत्र के नाम आने पर कई आवेदकों ने आरोप लगाए कि विकास खंड में जिन पांच आॅपरेटरों की नियुक्तियां की हैं, वह सब सांठगांठ से की गई हैं। पात्र आवेदकों की उपेक्षा कर अपने ही परिवार के सदस्यों को नियुक्ति दी गई है।

डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए आवेदन करने वाले आवेदक टीटू धर्मेंद्र शर्मा, कमलेश कुमार, हल्के मेहरा ने आरोप लगाते हुए बताया कि डाटा एंट्री ऑपरेटर के पद पर जो नियुक्तियां की गई हैँ उसमें सांठगांठ से सिद्धार्थ सुमन जो उत्कृष्ट स्कूल के प्राचार्य के सुपुत्र हैं उनकी पोस्टिंग हाई स्कूल वीरपुर में की गई है। तो अभिलाष इनवाती जो विकास खंड शिक्षाधिकारी राजेश इनवाती के सुपुत्र हैं उनकी पोस्टिंग हाई स्कूल तुलसीपार में की गई है और बांकी के अन्य अभ्यार्थियों की पोस्टिंग भी सांठ-गांठ के तहत की गई है।

नियमों की अनदेखी : बेगमगंज विकास खंड के हाई एवं हायर सेकंडरी स्कूल में 11 से 12 पदों पर भर्ती हुई थी। इन भर्तियों में जमकर धांधली के आरोप लगाए गए हैं।

आवेदक कमलेश कुमार, धर्मेंद्र शर्मा ने शिकायत करते हुए आरोप लगाए है कि योग्य उम्मीदवार कार्यालय के चक्कर लगाते रहे परंतु उन्हें जेम पोर्टल का पासवर्ड नहीं दिया गया। जिसके चलते कई उम्मीदवार अपना आवेदन जमा नहीं कर सके।