• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Begumganj
  • पॉलीथिन पर प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से किया जा रहा उपयोग
--Advertisement--

पॉलीथिन पर प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से किया जा रहा उपयोग

सरकार ने 1 मई 2017 से पॉलीथिन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था। बावजूद इसके अमानक पॉलीथिन बंद होने के बाद भी बाजार...

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 02:05 AM IST
पॉलीथिन पर प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से किया जा रहा उपयोग
सरकार ने 1 मई 2017 से पॉलीथिन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था। बावजूद इसके अमानक पॉलीथिन बंद होने के बाद भी बाजार में अभी भी धड़ल्ले से उपयोग की जा रही है। दुकानदारों से ज्यादा आम लोगों को इसका पता है, लेकिन सुविधा का बहाना बनाकर वे भी पॉलीथिन में ही सामान लेना पंसद कर रहे हैं। बाजार में पॉलीथिन का प्रयोग किराना दुकानों, रेस्टोरेंट,गिफ्ट का सामान बेचने वाले दुकानदारों से लेकर सब्जी बेचने वाले तक कर रहे हैं।

सब्जी विक्रेता सोमत अफसर ने बताया कि शुरू में पॉलीथिन को लेकर डर था। थोक दुकानों पर भी नहीं मिल रहीं थी, लेकिन अब मिल रही हैं। लोग सब्जी लेने आते हैं और उनके पास कोई थैला नहीं होता, मजबूरी में हमें पॉलीथिन में सब्जी देनी पड़ती है। मना करते हैं तो ग्राहक दूसरे विक्रेता के पास चला जाता है। यही हाल किराना कपड़ा जनरल स्टोर पर देखा जा रहा है।

दुकानदार देना बंद कर दे तो खुद घर से ले जाएंगे बास्केट, कपड़े की थैली व झोला: ग्राहक कमलेश विश्वकर्मा, आसिफ खां का कहना है कि यदि दुकानदार ग्राहक को पॉलीथिन में सामान देना बंद कर दें तो लोग अपने घर से ही बॉस्केट, कपड़े की थैली, झोला आदि साधन लेकर ही दुकान पर खरीदारी के लिए जाएंगे। जैसा कि पॉलीथिन शुरू होने से पहले लेकर जाते थे।

व्यापारी बोले कागज के लिफाफे नहीं रहे कारगर : पॉलीथिन पर प्रतिबंध के बाद कुछ दुकानदारों ने कागज के लिफाफों में सामान देने का प्रयास किया, लेकिन यह कारगर साबित नहीं हुआ। पॉलीथिन मजबूती के लिहाज से बेहतर है इसका कोई विकल्प नहीं है। व्यापारियों ने बताया कागज के फटने के कारण लोगों को सामग्री ले जाने में समस्या आती है।

X
पॉलीथिन पर प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से किया जा रहा उपयोग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..