--Advertisement--

सड़कों की हालत खराब, बारिश में होगी दिक्कत

प्री-मानसून दस्तक दे चुका है और मानसून भी आने वाला है। इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्र के कई मार्गो की हालत खराब है। कई...

Danik Bhaskar | Jun 15, 2018, 02:05 AM IST
प्री-मानसून दस्तक दे चुका है और मानसून भी आने वाला है। इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्र के कई मार्गो की हालत खराब है। कई सड़कों पर सर्दियों के मौसम में डामर का पतला कोड किया गया जो गर्मी का मौसम आते आते उखड़ गया। ऐसे ही मार्गो में हैदरगढ़ बेगमगंज मार्ग, सुनेहरा मार्ग, वीरपुर कीरतपुर मार्ग, कोहनिया मार्ग व महुआखेड़ा मार्गों की हालत ऐसी है कि यहां पर बारिश में चलना लोगों के लिए चुनौतीपूर्ण होगा।

प्रशासन और जिम्मेदार अधिकारियों की अनदेखी तथा लापरवाही के चलते राहगीरों, दो पहिया वाहन चालकों के लिए दुर्घटनाओं के मार्ग बन गए हैं। गौरतलब है कि बेगमगंज से हैदरगढ़ तक के मार्ग का कई बार सुधार कराया गया, लेकिन आजतक उसका सही तरीके से सुधार नहीं हो सका है। पेंच वर्क के नाम पर तो कभी डामरीकरण के नाम पर शासन को लाखों का चूूना लगाया जा रहा है। यही हाल सुनेहरा मार्ग, वीरपुर कीरतपुर मार्ग व महुआखेड़ा मार्ग और कोहनिया मार्ग का भी है। ऐसा नहीं है कि इन मार्गों की हालत अधिकारियों को पता न हो वे इन मार्गो से निकलते रहते हैं, लेकिन जर्जर हो रहे मार्गों को सुधरवाने की दिशा में आज कोई भी प्रयास नहीं किए गए हैं। पहले हैदरगढ़ व महुआखेड़ा मार्ग ठीक था, लेकिन अवैध रूप से रेत परिवहन करने वाले ओवरलोड डंपराें के कारण मार्ग समय से पहले ही खराब हो गए हैं।

घटिया निर्माण के कारण उखड़ी सड़कें, वाहन चालक परेशान

सुनेहरा मार्ग, वीरपुर मार्ग कोहनिया मार्ग पर डंपरों की आवाजाही नहीं है, लेकिन इनके निर्माण के समय गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा गया। इस कारण इन मार्गों की हालत बद से बदतर हो गई है। ग्रामीण राजवीर सिंह, नारायण सिंह, यशवंत ठाकुर, बलदार खां, फरीद खां पटेल, अंसार खां, नर्वदा प्रसाद, मंशाराम, राकेश कुमार, बालगिरी गोस्वामी, सौरभ शर्मा सहित दर्जनों लोगों ने प्रशासनिक अधिकारियों से उक्त मार्गो का निरीक्षण कर सुधार कराने की मांग की है।

इस संबंध में लोक निर्माण मंत्री ठाकुर रामपाल सिंह का कहना है कि दिखवाएं लेते हैं कहां गड़बड़ी हो रही है मार्गो का शीघ्र सुधार कराया जाएगा।

ग्रामीण क्षेत्र में क्षतिग्रस्त सड़कों से बारिश में वाहन चालकों को होगी परेशानी।