--Advertisement--

65 लाख रुपए से बनी सड़क पर चार माह में ही हुए गड्‌ढे

नगर से हैदरगढ़-विदिशा को जोड़ने वाली साढ़े 6 किमी की सड़क के निर्माण का वर्षों से इंतजार कर रहे क्षेत्र वासियों को...

Danik Bhaskar | May 16, 2018, 02:10 AM IST
नगर से हैदरगढ़-विदिशा को जोड़ने वाली साढ़े 6 किमी की सड़क के निर्माण का वर्षों से इंतजार कर रहे क्षेत्र वासियों को सड़क का निर्माण शुरू होने से खुशी मिली थी। वो खुशी आठ दिन में ही काफूर हो गई थी। तब सड़क बनाने वाले ठेकेदार ने डामर की कमी बताते हुए कुछ सड़क पर पुनः डामरीकरण कर दिया था, लेकिन 4 माह के अंदर सड़क गड्ढों में तब्दील हो गई।

भास्कर ने उक्त खबर को प्रमुखता से उठाया जिस पर ठेकेदार द्वारा गड‌्ढ़े भरने का काम शुरू किया गया, लेकिन घटिया निर्माण के चलते सड़क फिर से उखड़ गई। लेकिन साल भर भी नहीं गुजरा कि सड़क का पेंच वर्क उखड़ने लगा जो पिछली बारिश के बाद पूरी तरह उखड़ गया था तब से लोगों को गड्ढों में सफर करना पड़ रहा है। इस बारिश में मार्ग की क्या हालत होगी सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है। सड़क के घटिया निर्माण से क्षेत्रवासी दुखी हैं। उन्होंने माला से लेकर हैदरगढ़ तक पूरे मार्ग पर डामरीकरण गुणवत्ता से कराए जाने की मांग की है। ग्राम माला तक प्रधानमंत्री सड़क के बाद से गोपालपुर के आगे खंदे तक साढ़े 6 किमी की सड़क का ठेका रामेश्वर मोर्य भोपाल को दिया गया था। यह तीसरे ठेकेदार हैं इससे पहले दो ठेकेदार काम अधूरा छोड़ चुके हैं। सड़क निर्माण की लागत करीब 65 लाख रुपए बताई जा रही है। कुछ ही दिन में माला और गोपालपुर के बीच सड़क का उखड़ना और चटकना यह दर्शाता है कि गिट्टियों पर डामर की पतली परत चढ़ाई गई। मार्ग की हालत देखकर क्षेत्रवासी अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

घटिया पेंचवर्क से इन गांवों के लोग परेशान : सड़क का घटिया निर्माण होने के कारण माला, सिल्तरा, कोकलपुर, गोपालपुर, बेरखेड़ी, चंदोरिया, मढिया, बूढ़ा शहजादपुर, सागोनी, चौनपुरा, पीर पहाड़ी, धामनोद, दासीपुर, मदनई, पचपेडिया, लोहर्रा, एलछा, बेहलोट, मढिया धामनोद, मानपुर, भानपुर, मढिया जुर्रा, दईयर पुर, साजनखेड़ी, पुवापरिया, सेमरा, सोनपुर, बासांदेही, कोलूआ, हैदरगढ़, चीकली, मोहम्मदगढ़, ग्यारसपुर सहित अन्य गांवों के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अजय शर्मा मसकूार खान बेहलोट,मुन्ना खां आमिर खां दासीपुर,मनोहर कुशवाह मदनई इत्यादि ने मार्ग के घटिया निर्माण पर अफसोस व्यक्त करते हुए पीडब्ल्यूडी विभाग के आला अधिकारियों से मांग की है कि सड़क निर्माण कर रही कंपनी से करीब चार इंची डामरीकरण पुनः कराना चाहिए तब कहीं जाकर मार्ग कुछ साल चल सकेगा।

गुणवत्ता की कमी

हैदरगढ़ मार्ग गड्ढ़ों में तब्दील, आने-जाने में हो रही परेशानी, ग्रामीणों ने की ठेकेदार पर कार्रवाई की मांग

कराया जाएगा सुधार