• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Begumganj
  • कृषि अधिकारियों के पक्ष में उतरे कृषक मित्र और दीदियां, आत्मा परियोजना अधिकारी को दिया ज्ञापन
विज्ञापन

कृषि अधिकारियों के पक्ष में उतरे कृषक मित्र और दीदियां, आत्मा परियोजना अधिकारी को दिया ज्ञापन

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 02:10 AM IST

Begumganj News - कृषक मित्र और दीदियों ने मानदेय बढ़ाने की मांग और कृषि विस्तार अधिकारियों की चल रही हड़ताल का समर्थन करते हुए आत्मा...

कृषि अधिकारियों के पक्ष में उतरे कृषक मित्र और दीदियां, आत्मा परियोजना अधिकारी को दिया ज्ञापन
  • comment
कृषक मित्र और दीदियों ने मानदेय बढ़ाने की मांग और कृषि विस्तार अधिकारियों की चल रही हड़ताल का समर्थन करते हुए आत्मा परियोजना अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में उनका मानदेय बढ़ाने की मांग की। तत्पश्चात एक बैठक का आयोजन कर संगठन के चुनाव कराने के संबंध में गहन विचार किया गया। संगठन के हितों में आपसी सहमति से अध्यक्ष पद पर किसी एक कृषक मित्र का नाम रखने पर विचार किया गया। इस अवसर पर दिलीप साहू, ऋषिराज गौर, अर्चना चढ़ार, कृष्णकुमार यादव, भगवत सिंह गौर, सौरभ शर्मा, अमान सिंह, भरत पटेल, लोकेश अवस्थी, साहब भाई, मीना अहिरवार, रोहित राज, राजेन्द्र गौर,ब्रजेश लोधी, पृथ्वीसिंह तोमर, सौरभ शर्मा, रोहित कुशवाहा, दिलीप साहू, हल्के भाई, वृजेश लोधी, भगवत सिंह गौर, राकेश कुमार, सुकुमारी ठाकुर, दीनदयाल ठाकुर, भागीरथ सिंह मीना, आरती बाई आदिवासी, राजेन्द्र पटेल, शशि द्विवेदी, राजेश चौधरी, दिनेश कुमार अहिरवार, यशोदा ठाकुर सहित अन्य सदस्य मोजूद थे।

तीसरे दिन भी जारी रही हड़ताल

उदयपुरा| ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी संघ के आव्हान पर उदयपुरा ब्लाक के समस्त ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी 28 तारीख से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे हैं। हड़ताल के तीसरे दिन भी कृषि विभाग के सामने यह समस्त लोग चिलचिलाती धूप में हड़ताल पर बैठे। अपनी 3 सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल का बुधवार को तीसरा दिन था। प्रमुख मांगों में ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों को सर्वेयर के समान वेतनमान दिया जाए तथा संविदा कर्मियों को विभाग में संविलियन किया जाए और किसान मित्र और दीदी के मानदेय में वृद्धि की शामिल है।

फोटो 102

X
कृषि अधिकारियों के पक्ष में उतरे कृषक मित्र और दीदियां, आत्मा परियोजना अधिकारी को दिया ज्ञापन
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन