--Advertisement--

धीमी गति से चल रही खरीदी से भड़के किसान, जताया आक्रोश

भावांतर योजना के तहत चल रही खरीदी में लेटलतीफी होने से किसानों में आक्रोश पनप रहा है । कृषि मंडी प्रांगण केंद्रों...

Dainik Bhaskar

Jun 08, 2018, 02:10 AM IST
धीमी गति से चल रही खरीदी से भड़के किसान, जताया आक्रोश
भावांतर योजना के तहत चल रही खरीदी में लेटलतीफी होने से किसानों में आक्रोश पनप रहा है । कृषि मंडी प्रांगण केंद्रों पर बुधवार की शाम तक 56 ट्रालियां नंबर लगाए खड़ी रही, लेकिन तुलाई नहीं हो सकी। शाम 5 बजे से आंधी के बाद तेज बारिश होने से कई किसानों का चना व मसूर भीग गया। जिससे किसानों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया है। किसानों के भड़कने के बाद जिम्मेदार अधिकारी इधर-उधर भागते नजर आए ।

कृषि उपज मंडी प्रांगण में सरकारी खरीदी के दो केंद्रों पर चना व मसूर की तुलाई चल रही है । हम्मालों की कमी और धीमी गति से चल रही तुलाई के कारण कम माल तोला जा रहा है । तुलाई की तेज गति नहीं आने के कारण एक दिन में बमुश्किल 20 से 25 किसानों का माल खरीदा जा रहा है। जबकि बारिश की संभावना को देखते हुए काम में तेजी आना चाहिए जो देखने को नहीं मिल रही है। अब जबकि दो दिन शेष रह गए हैं तो किसानों में अपनी उपज बेचने की बेचैनी बढ़ गई है, जो घबराहट में इधर-उधर अधिकारियों के चक्कर लगा रहे हैं । पहले हम की होड़ से खरीदी केंद्रों पर अफरातफरी का माहौल देखा जा रहा है ।

दो दिन से आए है मंडी में, पर तुलाई नहीं हो पाई : किसान गनपत सिंह, रघुनाथ, शोभा राम साहू, खिलान सिंह लोधी, मनमोहन सिंह यादव, राशिद खान, कन्हैया लाल गूजर, गोविंद सिंह पटेल इत्यादि जैसे कई किसानों ने आज अपनी व्यथा बताते हुए कहाकि आज उन्हें खड़े-खड़े दो दिन हो गए। ट्रालियों को केंद्रों पर लगाए हुए लेकिन धीमी गति के कारण उनके माल की तुलाई नहीं हो सकी है। बुधवार को जिनका नंबर आ गया था तो उन्हें कल गुरुवार को तुलाई का कहा जा रहा है।

X
धीमी गति से चल रही खरीदी से भड़के किसान, जताया आक्रोश
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..