--Advertisement--

कबीर के आदर्शों को अपनाएं जीवन तर जाएगा: रामपाल

वाणी प्रेम की ऐसी बोलिए कि जग अपना मीत हो जाए। जीवन पथ पर चलते-चलते विषम परिस्थितियों में भी अपना धैर्य संयम न खोय...

Danik Bhaskar | Jun 30, 2018, 02:15 AM IST
वाणी प्रेम की ऐसी बोलिए कि जग अपना मीत हो जाए। जीवन पथ पर चलते-चलते विषम परिस्थितियों में भी अपना धैर्य संयम न खोय वो इंसान है। जो संत कबीर के आदर्शों को आत्मसात कर ले उसका जीवन तर जाता है। यह बात लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह राजपूत ने कबीर जयंती समारोह में उपस्थित समाज के लोगों को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने संत कबीर के दोहों से कई आदर्श स्तुतियां प्रस्तुत करते हुए जीवन को निर्मल मंदाकनी की तरह बनाने पर जोर दिया। लोक निर्माण मंत्री ने कबीर पंथी समाज के लिए चबूतरा निर्माण एवं बाउंड्रीवॉल के लिए 2 लाख रुपए देने की घोषणा की।

कार्यक्रम में जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह तोमर, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष राजेश यादव सेवादल अध्यक्ष विजय पहलवान, रविशंकर पटवारी, मंशाराम पटवारी, भाजपा महामंत्री कमल साहू, राकेश भार्गव ने संत कबीर के चरित्र पर प्रकाश डालते हुए संत कबीर को सभी जाति,धर्म का नायक बताया।

कबीर जयंती समारोह मनाने का जिले में छठवां अवसर होने से कबीर पंथी धारा के सैकड़ों स्वजन बंधुओं ने भाग लेकर माता मंदिर टेकरी पर स्थित संत कबीर मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रतिमा पर पुष्पांजली अर्पित की। खिरियानारायण दास काली तिगड्डा से संत कबीर की भव्य झांकी निकाली गई एवं कन्याएं कलश यात्रा में कलश लेकर चल रही थीं। जो नगर के मुख्य मार्गों से होती हुई वापस उसी स्थान पर पहुंची। इस बीच जगह-जगह चल समारोह का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। संत कबीर के चित्र पर माल्यार्पण एवं उनकी आरती उतारी गई।

शोभायात्रा

कबीर जयंती समारोह में सिर पर कलश रखकर निकलीं कन्याएं, मंदिर के लिए मंत्री ने की 5 लाख रुपए देने की घोषणा

कबीर जयंती पर निकाली गई शोभायात्रा।

लोनिवि मंत्री ने 5 लाख रुपए देने की घोषणा की

मंदिर टेकरी पर समिति अध्यक्ष सत्यजीत दुबे के आग्रह पर लोक निर्माण मंत्री ने मंदिर के विकास के लिए 5 लाख रुपए की घोषणा की। समिति के सभी सदस्यों ने लोक निर्माण मंत्री का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर कार्यक्रम में सुनील नायक, बाबूलाल पंथी, वीरू पंथी, भावसिंह पंथी, राजराम पंथी,छोटेलाल, भागचंद, दलपथ पंथी, मोहन पंथी, खुमान चंद, हजारीलाल पंथी के अलावा मल साहू, हेमंत विश्वकर्मा, समारोह समिति के अध्यक्ष वीरू पंथी, महेश पंथी, निरपत पंथी, वरूण पंथी, देवजू पंथी, सुनील नायक, शंकरलाल पंथी, सहित बड़ी संख्या में समाज के लोग मौजूद थे।