• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Begumganj
  • साफ चने को रिजेक्ट करने से भड़के किसान, हाईवे पर मंडी के सामने आधा घंटे जाम लगाकर किया विरोध
--Advertisement--

साफ चने को रिजेक्ट करने से भड़के किसान, हाईवे पर मंडी के सामने आधा घंटे जाम लगाकर किया विरोध

भास्कर संवाददाता|बेगमगंज/सिलवानी बेगमगंज में तीन बार छन्ना लाकर चना की सफाई करने के बाद भी जब सर्वेयर ने उसे...

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 03:20 AM IST
भास्कर संवाददाता|बेगमगंज/सिलवानी

बेगमगंज में तीन बार छन्ना लाकर चना की सफाई करने के बाद भी जब सर्वेयर ने उसे रिजेक्ट कर दिया तो किसान भड़क उठे और उन्होंने मंडी के सामने जाम लगा दिया। वहीं सिलवानी में बारदाना के अभाव में तुलाई बंद होने से आक्रोशित किसानों ने भी स्टेट हाईवे पर जाम लगाकर अपना विरोध दर्ज कराया। इन दोनों स्थानों पर प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर आक्रोशित किसानों को समझाया और जाम शांत कराया। गुरुवार को कृषि उपज मंडी परिसर स्थित चना खरीदी केन्द्र पर एक किसान का चना सर्वेयर के द्वारा तीन बार छन्ना लगवाने के बावजूद केंसिल कर दिया। जिससे किसान भड़क गए और उन्होंने केन्द्र पर हंगामा करते हुए कृषि उपज मंडी के सामने करीब आधा घंटे तक जाम लगाकर प्रशासन और प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। जानकारी मिलते ही तहसीलदार आरके सिंह, एसडीओपी मंगलसिंह ठाकरे, एसआई अरविंद पांडे दल बल के साथ पहुंचे।

सर्वेयर व केंद्र प्रभारी मांग रहे हैं राशि: किसानों का नेतृत्व कर रहे किसान नेता डाॅ. रवि शर्मा, सौरभ शर्मा, उमाशंकर पांडे, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष राजेश यादव ने अधिकारियों को बताया कि सर्वेयर व केन्द्र प्रभारी हम्मालों के माध्यम से रिश्वत की मांग करवा रहे है जो किसान पैसे दे देता है उसका उन्नीसा माल भी तुल रहा है। किसान दलपत सिंह ने तीन बार छन्ना लगाकर चना साफ किया था, इसके बाद भी उसका सेंपल कैंसिल कर दिया।

बेगमगंज में चना रिजेक्ट करने पर हाईवे पर जाम लगाते किसान।

सिलवानी में बारदाना खत्म तुलाई रोकी तो लगाया जाम

सिलवानी|
चना खरीदी केंद्र पर बारदान की कमी होने से तुलाई बंद कर दी गई। इस बात से नाराज किसानों ने स्टेट हाईवे 15 पर जाम लगा दिया। आधे घंटे तक किसानों ने यहां पर नारेबाजी कर अपना आक्रोश जताया। चक्काजाम की जानकारी लगते ही तहसीलदार सुशील कुमार व टीआई आरडी शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और किसानों को समझाईश दी। अधिकारियों ने दो घंटे में बारदाना उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया, तब किसानों ने जाम समाप्त किया। तहसीलदार सुशील कुमार ने बताया कि केंद्र पर बारदाना मंगवाया जा रहा है। राशि लेने की शिकायत नहीं आई है।