--Advertisement--

पंडित मौलवी और टेंट वाले भी रोकेंगे बाल विवाह

पंडित मौलवी टेंट वाले, घोड़ी वालों की भी बाल विवाह रोकने की जिम्मेदारी होगी। इन सेवादाताओं को भी बाल विवाह रोकने के...

Danik Bhaskar | Apr 28, 2018, 04:20 AM IST
पंडित मौलवी टेंट वाले, घोड़ी वालों की भी बाल विवाह रोकने की जिम्मेदारी होगी। इन सेवादाताओं को भी बाल विवाह रोकने के लिए तैयार की गई कार्य योजना में शामिल किया गया है। महिला सशक्तिकरण के तहत लाडो अभियान को मजबूती दी जा रही है। बाल विवाह रोकने के लिए सभी की जिम्मेदारी तय करने को लेकर शिक्षा, स्वास्थ्य, पुलिस, महिला बाल विकास विभाग एवं राजस्व विभाग की भी जिम्मेदारी दी गई है। एसडीएम डीके सिंह ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सहित अन्य के समक्ष उक्त जनपद के सभाकक्ष में आयोजित कार्यक्रम में उक्त बात कही। उन्होंने बताया कि जन सामान्य एवं सेवा प्रदाताओं जैसे प्रिंटिंग प्रेस, हलवाई, केटरर, बैंड वाला, घोड़ी वाला, ब्यूटी पार्लर, टेंट हाऊस, ट्रांसपोर्टर, धर्म गुरु एवं समाज के मुखिया से भी सहयोग लिया जाएगा। अगर इन सेवादाताओं को कहीं बाल विवाह की जानकारी मिलती है तो वह प्रशासन को बताए और ऐसे विवाह में अपना सहयोग न दें। इस अवसर पर महिला बाल विकास विभाग की प्रभारी अधिकारी नादिरा खान, पर्यवेक्षक प्रेम बाई पंथी, संगीता ठाकुर ने भी बाल विवाह पर प्रकाश डाला।