विज्ञापन

75 यूनिट से ज्यादा के बिल पर नहीं देना होगा प्रभार / 75 यूनिट से ज्यादा के बिल पर नहीं देना होगा प्रभार

Bhaskar News Network

May 14, 2018, 04:20 AM IST

Begumganj News - बिजली उपभोक्ताओं के लिए अच्छी खबर है। इस बार बिजली की दरें नहीं बढ़ाई गई हैं। दरें यथावत रखी हैं। इससे लोगों को...

75 यूनिट से ज्यादा के बिल पर नहीं देना होगा प्रभार
  • comment
बिजली उपभोक्ताओं के लिए अच्छी खबर है। इस बार बिजली की दरें नहीं बढ़ाई गई हैं। दरें यथावत रखी हैं। इससे लोगों को पुरानी दर पर ही बिजली बिल जारी किए जाएंगे। साथ ही अधिक खपत करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं को स्थाई प्रभार फिक्स चार्ज में भी राहत दी गई है। उन्हें 75 यूनिट से ज्यादा का बिल होने पर दोगुना स्थायी प्रभार नहीं देना होगा।

हर माह उपभोक्ताओं को ऊर्जा दर के अलावा स्थायी प्रभार भी देने होते है। अब नए टैरिफ प्लान के अनुसार 75 यूनिट तक आधा किलोवाट ही माना जाएगा, लेकिन उसके बार हर 15 यूनिट की खपत में 100 वाट का भार मानकर स्थायी प्रभार लिया जाएगा। उपभोक्ता को इससे फायदा होगा। क्षेत्र के करीब 15 हजार उपभोक्ताओं ओ फायदा होगा। इसमें 6233 शहर के व 8600 से अधिक ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ता शामिल है। नया टैरिफ 11 मई से लागू होना था लेकिन अभी तक विभाग के पास आदेश नहीं आए हैं। कंपनी के अधिकारियों के अनुसार 15 यूनिट की खपत को 100 वाट का भार माना है। बिजली कंपनी के एई आशीष भालेकर के अनुसार फिक्स चार्ज का स्लैब घटाया है। मप्र विद्युत नियामक आयोग ने नया टैरिफ प्लान जारी किया है। आदेश मिलते ही यह टैरिफ प्लान लागू किया जाएगा।

समय पर मीटर रीडर नहीं आए तो करें शिकायत : मीटर रीडिंग के लिए समय तय है यदि आपके घर मीटर रीडर नहीं आ रहा है तो आप इसकी शिकायत बिजली कंपनी में कर सकते है। मीटर रीडर तय समय में उपभोक्ता के घर पहुंचता है। रीडिंग के लिए मोबाइल से इसका फोटो खींचकर बिल तैयार किया जा रहा है।

ऐसे समझे 68 से 73 रुपए की बचत होगी : यदि आपके यहां 75 यूनिट से ज्यादा खपत होती थी तो आपको दोगुना स्थायी प्रभार फिक्स चार्ज देना पड़ता था जो 90 रुपए तक होता था। 75 यूनिट से ज्यादा खपत होने पर केवल 17 से 22 रुपए चुकाना होंगे।

सुविधा

विद्युत नियामक आयोग ने दी राहत अब नहीं लगेगा डबल फिक्स चार्ज

पहले ऐसे होती थी बिलिंग

रीडिंग में 100 यूनिट तक की खपत होने पर 4.70 रुपए की दर से बिलिंग की जाती थी। बिल 470 रुपए का बनता था। दस पर 90 रुपए फिक्स चार्ज लिया जाता था। विद्युत शुल्क ड्यूटी 82 रुपए तथा मीटिरिंग प्रभार 10 रुपए जोड़कर 652 का बिल हो जाता था। इसमें अब 90 रुपए फिक्स चार्ज का कम होगा। फिक्स चार्ज केवल 17 से 22 रुपए लिए जाने से आपको 545 व 540 रुपए की चुकाना होंगे।

X
75 यूनिट से ज्यादा के बिल पर नहीं देना होगा प्रभार
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन