--Advertisement--

ग्राम पंचायतों में 14 को होंगी ग्राम सभाएं

ग्राम पंचायतों में 14 अप्रैल को ग्राम-सभाओं का आयोजन किया जाएगा। ग्राम सभाओं में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण)...

Danik Bhaskar | Apr 12, 2018, 05:15 AM IST
ग्राम पंचायतों में 14 अप्रैल को ग्राम-सभाओं का आयोजन किया जाएगा। ग्राम सभाओं में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की प्रतीक्षा सूची को अपग्रेड करने, निर्माणाधीन आवासों को शीघ्र पूरा कराने तथा पंचायत में चलाए जा रहे निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की जाएगी।

बीईओ राजेश सोनी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया ग्राम सभाओं में पंच परमेश्वर योजना के तहत उपलब्ध राशि और प्रस्तावित कार्यों के नए निर्देशों और एप से सदस्यों को अवगत कराया जाएगा। ग्राम को खुले में शौच मुक्त घोषित करने की रणनीति और अवधि का निर्धारण किया जाएगा।

खुले में शौच मुक्त घोषित हो चुके ग्रामों को कचरा-कीचड़ मुक्त ग्राम के रूप में विकसित करने के लिए रणनीति निर्धारित की जाएगी। ग्राम सभा में अनिवार्य करों के करा-रोपण एवं वसूली की जानकारी दी जाएगी। ग्राम पंचायत के तहत विद्यालयों में मध्याह्न भोजन वितरण और आंगनबाड़ियों में बच्चों के पोषण आहार की व्यवस्था पर भी चर्चा होगी। जिन ग्रामों में सभी पात्र महिलाएं स्व-सहायता समूह की सदस्य बन चुकी हैं, उनकी पूर्ण जानकारी ग्राम सभा में रखी जाएगी।

समीक्षा

गांवों को कचरा-कीचड़ मुक्त करने के लिए अफसर तैयार कर रहे रणनीति

मद्य निषेध को लेकर की जाए चर्चा

14 अप्रैल को आयोजित ग्राम सभाओं में स्वसहायता समूहों की स्वच्छता मिशन के तहत खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) तथा ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन (एसएलडब्ल्यूएम) में भागीदारी सुनिश्चित की जाए। ग्राम संगठन द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी ग्राम सभा में साझा की जाए। विभिन्न पेंशन योजनाओं के तहत लाभ वितरण तथा मद्यपान, तंबाकू, गुटखा, सिगरेट एवं अन्य नशीले मादक द्रव्यों तथा पदार्थों के दुष्परिणामों तथा मद्य निषेध के लिए स्वास्थ्य वातावरण निर्माण जैसे विषयों पर ग्राम सभाओं में अनिवार्य रूप से चर्चा की जाने के निर्देश सरपंच सचिवों को दिए गए है। इसके लिए ग्राम पंचायत में तैयारी चल रही है।

ग्राम सभाओं में पोषण अभियान पर विशेष फोकस

अंबेडकर जयंती के मौके पर होने वाली ग्रामसभाओं में पोषण-अभियान पर विशेष जोर दिया जाएगा। ग्रामसभाओं में पोषण के विभिन्न पहलुओं, स्वास्थ्य और स्वच्छता पर विशेष चर्चा की जाएगी। आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों का वजन भी लिया जाएगा। सरकार द्वारा इस विषय को ग्राम सभा का अनिवार्य एजेंडा बनाया गया है।