• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Betul News
  • पेंशनर बोले- आधी पेंशन चली जाती है दवाई में, कब दोगे सातवां वेतन
--Advertisement--

पेंशनर बोले- आधी पेंशन चली जाती है दवाई में, कब दोगे सातवां वेतन

सातवां वेतनमान की मांग को लेकर बुधवार को पेंशनरों ने कलेक्टोरेट कार्यालय में धरना देकर प्रदर्शन किया। हाथ में...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:15 AM IST
सातवां वेतनमान की मांग को लेकर बुधवार को पेंशनरों ने कलेक्टोरेट कार्यालय में धरना देकर प्रदर्शन किया। हाथ में दवाइयां लेकर पहुंचे पेंशनरों ने कहा हमारी आधी पेंशन दवाई में ही खर्च हो जाती है। शेष राशि में भरण-पोषण करने में परेशानी होती है। पेंशनरों ने एक सुर में सातवां वेतनमान देने की गुहार लगाई।

एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष रामचरण साहू ने बताया 26 फरवरी को ब्लाॅक एवं तहसील स्तर पर धरना प्रदर्शन के बाद जिला मुख्यालय पर धरना देकर सरकार को जगाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने बताया सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सेवारत कर्मचारियों के समान ही समस्त लाभ प्रदान किए जाते रहे हैं। दोनों के लिए एक समान आदेश प्रसारित किए जाते रहे हैं। लेकिन सातवां वेतनमान का लाभ पेंशनरों को नहीं दिया गया। पेंशनरों ने 1 जनवरी 2016 से सातवें वेतनमान की अनुशंसाओं को राज्य के समस्त पेंशनर्स के लिए लागू करने, संशोधित पेंशन 2.57 की दर से लागू करने, पूर्व से लंबित डीए के 19 माह का एरियर्स अविलंब भुगतान करने, छठवें वेतनमान का 32 माह का एरियर्स तुरंत प्रदान करने के आदेश संवाहित करने सहित अन्य मांगें रखी हैं। इस अवसर पर जिला सचिव कैलाशचंद्र मालवीय, कन्हैयालाल बोवाड़े, यूजी कापसे, पीआर कोसे, अनिरुद्ध दुबे, बीपी वाघमारे, शकुंतला पचौली, मूलचंद नागले, शिवनारायण मालवीय, सुंदरलाल कड़वे सहित अन्य पेंशनर मौजूद थे।

बैतूल। धरना देते हुए पेंशनर्स।