• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Betul
  • Betul - 1 हजार के मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं
--Advertisement--

1 हजार के मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं

1 हजार के मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं भास्कर संवाददाता| बैतूल भारतीय रसोइया महिला स्व...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 02:20 AM IST
Betul - 1 हजार के मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं
1 हजार के मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं

भास्कर संवाददाता| बैतूल

भारतीय रसोइया महिला स्व सहायता संघ व अटल मानव समस्या निवारण समिति ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज्ञापन सौंपा।

समिति के प्रांताध्यक्ष राजेंद्र सिंह चौहान (केंडू बाबा) ने बताया रसोइयों को मात्र एक हजार रुपए मानदेय मिल रहा है ऐसे में इस महंगाई के जमाने में इतने कम मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं। स्व सहायता संघ की सैकड़ों महिलाओं को देख शिवराज सिंह चौहान ने रथ से उतरकर ज्ञापन लिया।ज्ञापन में मांग कि मध्याह्न भोजन में कार्यरत रसोइयों का मानदेय 1 हजार रुपए से बढ़ाकर मनरेगा का रेट 4,500 रुपए प्रतिमाह दिया जाए, आंगनबाड़ी केंद्र में सांझा चूल्हा के साथ रसोइयों का मानदेय 500 रुपए से बढ़ाकर 1,500 रुपए किया जाए आदि मांगें रखीं। इस मौके पर गंगा नागले, उषा नागले, चित्रा गावंडे, बुंदा बाई, गीता देशमुख, यशोदा साहू, रितु आर्य, मीना पंवार, मंशा महाले, शांता फूले, कौशल्या मानकर, महिलाएं मौजूद थीं।

X
Betul - 1 हजार के मानदेय में कैसे बेटी पढ़ाएं- कैसे बेटी बचाएं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..