• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Betul News
  • लेवल और भराव किए बिना, दो नए पुलों पर ट्रैफिक शुरू किया, मिट्टी व बोल्डर धंसकना शुरू, 4 फीट हुआ कटाव
--Advertisement--

लेवल और भराव किए बिना, दो नए पुलों पर ट्रैफिक शुरू किया, मिट्टी व बोल्डर धंसकना शुरू, 4 फीट हुआ कटाव

दो महीनों तक कालापाठा सड़क पर नाले के दो पुलों का निर्माण चलने के कारण ट्रैफिक बंद रहा था। पुल बनने के बाद सड़क और पुल...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:20 AM IST
दो महीनों तक कालापाठा सड़क पर नाले के दो पुलों का निर्माण चलने के कारण ट्रैफिक बंद रहा था। पुल बनने के बाद सड़क और पुल के बीच आनन-फानन में बिना लेवल और भराव किए 15 मई से ट्रैफिक को शुरू करवा दिया। अब पुल और सड़क के ज्वाइंट पर मिट्टी और बोल्डर धंसकने लगे हैं। दोनों पुलों के 8 कोनों पर चार फीट तक के कटाव हो चुके हैं। यदि इसे लेवल नहीं करवाया तो किसी भी समय मिट्टी धंसकने से बड़ा हादसा हो सकता है। सड़क से रोज 7 हजार वाहन गुजरते हैं। वन डिपो के 25 से 30 टन वजनी ट्रक और यात्री बसें भी गुजरती हैं।

विकास नगर में हाथी नाले और आरामशीन नाले पर पुल बनाए हैं: पीडब्ल्यूडी ने दो महीने पहले 19 मार्च को विकास नगर पुल का डिस्मेंटल किया था। इसके बाद आरामशीन पुलिया का डिस्मेंटल किया था। इसके बाद से ही इस सड़क पर ट्रैफिक बंद था। दो महीने ट्रैफिक बंद रहा।

गाढ़ाघाट पुल में भी आ गई थी दरार: पीडब्ल्यूडी ने मजबूतीकरण प्रोजेक्ट के तहत गाढ़ाघाट में 9 लाख की लागत से बनाए नए पुल पर भी इसी तरह ट्रैफिक शुरू करवा दिया था। इस कारण इस पुलिया में एक महीने पहले क्रेक आ गया था। बाद में दरार वाले हिस्से की मरम्मत करवाई थी।




चार फीट गहरा कटाव हो गया पुल के कोने में

विकास नगर पुल के कोने में चार फीट गहरा कटाव हो गया है। नए पुल और सड़क के जोड़ पर कोने से मिट्टी और बोल्डर नीचे नाले में गिर रहे हैं। यह कटाव लगातार मिट्टी और बोल्डर गिरने से बढ़ता जा रहा है। यदि अब भी लेवल नहीं किया तो यहां बड़ा हादसा हो सकता है।

सड़क और पुलों का लेवल गड़बड़ाया

पीडब्ल्यूडी ने पुल तो बना दिए, लेकिन पुल और सड़क के लेवल में अंतर आ गया है। पुल का स्थान ऊंचा हो गया और सड़क का लेवल नीचा हो गया है। इसे लेवल करवाने की भी जरूरत है। पुल के ऊपर मिट्टी और ऊबड़-खाबड़ सड़क के कारण वाहन चालक परेशान हो रहे हैं। वाहनों का संतुलन बिगड़ रहा है वहीं धूल से भी परेशानियां हो रही हैं।