मनुष्य प्रार्थना, पुरुषार्थ, सत्य अाचरण से अपने जीवन काे सुखमय, अानंदमय बना सकता है: तिवारी / मनुष्य प्रार्थना, पुरुषार्थ, सत्य अाचरण से अपने जीवन काे सुखमय, अानंदमय बना सकता है: तिवारी

Betul News - तहसील के मंडई अावरिया गांव में शनिवार से श्रीमद् भागवत कथा की शुरुआत हुई। इस माैके पर गांव के प्रमुख मार्गाें से...

Bhaskar News Network

Dec 09, 2018, 04:50 AM IST
SHAHAPUR News - man can make his life pleasant priceless by prayer manhood truthful conduct tewari
तहसील के मंडई अावरिया गांव में शनिवार से श्रीमद् भागवत कथा की शुरुआत हुई। इस माैके पर गांव के प्रमुख मार्गाें से कलश यात्रा निकाली गई। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं व बच्चे शामिल हुए। यहां पर देवास जिले के संदलपुर गांव से अाए पंडित भगवतीप्रसाद तिवारी ने कथा सुनाते हुए कहा परमात्मा ने इस संसार में प्रत्येक मनुष्य के भीतर अदभुत गुण, शक्ति देकर भेजा है। व्यक्ति काे भीतर की प्रतिभा जगाने के लिए वेद, शास्त्र उपनिषद, पुराण, सत्संग, सतगुरु, महापुरुष, महात्मा का सहारा लेना पड़ता है। भागवत में राजा परीक्षित काे सतगुरु शुकदेव मुनि का सानिध्य मिला ताे सात दिन में अमर अात्मा का ज्ञान प्राप्त हुअा अाैर वे मृत्यु के भय से मुक्त हाे गए। कथा सत्संग, साधना से पता चलता है हमारे भीतर ही सबकुछ है। ध्रुव भक्त प्रह्लाद काे बचपन में सत्संग मिला ताे महान बन गए। हर एक मनुष्य प्रार्थना, पुरुषार्थ, परिश्रम सत्य अाचरण से अपने जीवन काे सुखमय, शांतिमय, अानंदमय बना सकता है। भागवत कथा सुनाने अाए पंडित भगवती प्रसाद तिवारी कथा सुनाने के साथ ही याेग कराएंगे। उन्हाेंने बताया याेग शिविर सुबह 6 से 7 बजे तक चलेगा।

श्रोताओं ने हाथ उठाकर लिया राम मंदिर निर्माण का संकल्प

कथा में मनाया कृष्ण जन्मोत्सव, झूम उठे श्रोता

खेड़ीसांवलीगढ़| शीतला माता मंदिर के 9वें स्थापना दिवस पर ग्राम खेड़ीसांवलीगढ़ में सात दिनी श्रीमद् भागवत कथा के चाैथे दिन कथा वक्ता कृष्ण जन्म भूमि मथुरा से आईं देवी हेमलता शास्त्री ने पहले सूर्यवंश की कथा सुनाई। इसमें प्रभु श्रीराम और उनके आदर्शाें के विषय में समझाया। इसके बाद चंद्रवंश की कथा में मथुरा के राज अग्रसेन की कथा सुनाई। कैसे उनके पुत्र कंस ने उन्हें कारागृह में वासुदेव, देवकी सहित बंद कर अासुरी स्वभाव से आतंक मचा रखा था, तब देवकी की आठवीं संतान के रूप में कंस के कारागृह में कृष्ण भगवान का जन्म हुआ। देवी हेमलता शास्त्री ने कथा के दौरान अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का आह्वान सभी से किया और कहा राम हमारा स्वाभिमान है। श्रीराम हमारी आस्था है। राम हमारे जीवन का प्राण हैं। इसलिए मैं व्यासपीठ से सभी से आह्वान करती हूं कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण हो। इस मौके पर उपस्थित जन समुदाय ने हाथ खड़े करके संकल्प लिया और जय श्रीराम का जयघोष किया।

SHAHAPUR News - man can make his life pleasant priceless by prayer manhood truthful conduct tewari
X
SHAHAPUR News - man can make his life pleasant priceless by prayer manhood truthful conduct tewari
SHAHAPUR News - man can make his life pleasant priceless by prayer manhood truthful conduct tewari
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना