पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • SHAHAPUR News Mp News Demand For Train Stoppage Not Completed In 20 Years

20 साल में पूरी नहीं हुई ट्रेन स्टॉपेज की मांग, व्यापारियों ने बंद रखा शहर

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रेनाें के स्टॉपेज की मांग पूरी नहीं होने से शनिवार काे व्यापारियाें और लाेगाें का गुस्सा फूट पड़ा। व्यापारियाें ने सुबह से दाेपहर तक दुकानें बंद रखकर विराेध जताया। रेलवे संघर्ष समिति के पदाधिकारियाें ने इस दाैरान स्टेशन प्रबंधक काे रेल मंत्री के नाम ज्ञापन साैंपकर ट्रेनाें के स्टॉपेज शुरू करने की बात रखी। स्टॉपेज नहीं हाेने पर बड़े अांदाेलन की चेतावनी दी। शाहपुर क्षेत्र के लाेग बरबटपुर स्टेशन पर जयंती जनता समेत एक अन्य ट्रेनों के स्टापेज की मांग 20 साल से कर रहे हैं।

रेलवे अधिकारियाें व जनप्रतिनिधियाें के दाैरे के समय स्टापेज की मांग की जाती रही, लेकिन रेलवे प्रशासन अाैर जनप्रतिनिधि इसे नजर अंदाज करते रहे। कोई सुनवाई नहीं होने पर नगर की रेल संघर्ष समिति ने शनिवार काे शाहपुर बंद का अाह्वान कर दिया। नगर का बाजार दाेपहर तक बंद रहा। नाराज व्यापारी व स्थानीय लाेग दाेपहर में स्टेशन प्रबंधक व तहसीलदार के पास पहुंचे। यहां रेलमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर बरबटपुर में अंडमान एक्सप्रेस - 16031/16032 अाैर लखनऊ-चेन्नई एक्सप्रेस 16093/16094 ट्रेन स्टॉपेज की मांग रखी। इस पर स्टेशन प्रबंधक ने उनके ज्ञापन काे वरिष्ठ अधिकारियाें तक पहुंचाने का अाश्वासन दिया। उल्लेखनीय है वर्तमान में यहां पर केवल दादा एक्सप्रेस रुकती है।

ट्रेन रुकने से लोगों को ये होगी सुविधा

सुबह की इस ट्रेन के बरबटपुर में स्टापेज होने से उन लोगों काे इलाज के लिए नागपुर या दक्षिण भारत के बड़े शहराें में जाने के लिए सहूलियत मिलेगी। घोड़ाडोंगरी - बैतूल नहीं जाना पड़ेगा। नई दिल्ली जाने वालों को घोड़ाडोंगरी और इटारसी से ट्रेन पकड़ना पड़ता है। बैतूल से इटारसी के बीच इस ट्रेन को इतना समय है कि यहां ट्रेन का स्टापेज हो सकता है।

सुबह से दाेपहर तक दुकानें बंद रखकर जताया विराेध

ट्रेनों के स्टॉपेज नहीं हाेने पर दी बड़े अांदाेलन की चेतावनी

शाहपुर। ट्रेन के स्टॉपेज की मांग का लेकर रेलमंत्री के नाम ज्ञापन दिया।

स्टापेज मिला तो कम समय में पहुंचेंगे भाेपाल-नागपुर
व्यापारी सुजीत गुप्ता का कहना है एक्सप्रेस ट्रेनों के स्टापेज से व्यापारी अाैर नागरिक कम समय में नागपुर, भोपाल पहुंच सकेंगे। वर्तमान में ट्रेनों के स्टापेज नहीं हाेने से ट्रेन पकड़ने बैतूल - इटारसी तक जाना पड़ता है। सुबोध बाकोड़िया का कहना है 20 साल से भाजपा के सांसद यहां का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। उनसे लगातार मांग कर रहे हैं, लेकिन अब तक ट्रेन का स्टापेज नहीं हाे सका। रेल संघर्ष समिति के सदस्य सूर्यकांत सोनी का कहना है समिति के 8 सदस्यों ने 14 साल रेल रोको आंदोलन में मुकदमा लड़ा है। इस क्षेत्र की सैकड़ों प्रतिभाएं दक्षिणभारत अाैर प्रदेश के अन्य हिस्सों में शिक्षा अाैर रोजगार से जुड़े हैं । 150 गांवों के लोगों को लंबी दूरी की यात्रा के लिए इटारसी - बैतूल- घोड़ाडोंगरी से ट्रेन पकड़नी पड़ती है। हम लगातार ट्रेन स्टापेज की मांग करते आ रहे हैं।

प्रबंधक ने ज्ञापन काे अधिकारियाें तक पहुंचाने का िदया अाश्वासन

वर्तमान में यहां पर केवल रुकती है दादा एक्सप्रेस

सरकारी अाॅफिसर हाेते हैं परेशान

यहां एसडीएम कोर्ट समेत अनुविभाग स्तर के कार्यालय अाैर 4 बैंक हैं। पुनर्वास के बहुत से लोग दक्षिण भारत अाैर उत्तर भारत में नौकरी, पेशा से जुड़े हैं। कई अाॅफिसर हैं। ट्रेनाें का स्टापेज नहीं हाेने से वे परेशान हाेते हैं। व्यापारी संघ अाैर रेल संघर्ष समिति ने मांग पूरी नहीं होने पर पुनः आंदोलन की चेतावनी दी है।

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें