टोल टैक्स लेने के बाद भी कंपनी नहीं सुधार रही सड़क, जगह-जगह अाईं दरारें, संकेतक भी नहीं

Betul News - बैतूल-परासिया स्टेट हाईवे पर रोजाना टोल देकर लोग सफर करते हैं। मगर, ठेका कंपनी द्वारा मेंटेनेंस नहीं करने से इस...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:11 AM IST
Sarni News - mp news even after taking toll tax the company is not improving on the road place to date cracks not even indicators
बैतूल-परासिया स्टेट हाईवे पर रोजाना टोल देकर लोग सफर करते हैं। मगर, ठेका कंपनी द्वारा मेंटेनेंस नहीं करने से इस सड़क की स्थिति अब खराब हो गई है। जगह- जगह गड्ढे अाैर दरारें अा चुकी हैं। रोजाना तीन से चार लाख रुपए का टाेल वसूलने के बाद भी ठेका कपंनी द्वारा मरम्मत नहीं करने से कई जगह से दरारें आ गई हैं। कहीं गड्ढे हो गए तो कई स्थानों पर सड़क उखड़ गई है।

एमपीआरडीसी ने बीओटी के तहत बैतूल परासिया टू लेन सड़क का काम किया था। इस पर पांढरा टोल प्लाजा पर बाकायदा टोल टैक्स भी लिया जाता है। नियमानुसार यदि टोल टैक्स लिया जा रहा है तो टैक्स वसूली करने वाली कंपनी को सड़क का पूरा मेंटेनेंस करना है। मगर, ऐसा हो नहीं रहा है। पांढरा के मंदिर के पास ही सड़क की बनावट ऐसी है यहां से वाहन उछलते हैं। जबकि सलैया में बैकुंठ धाम आश्रम के पास सड़क में दोबारा से दरारें आ गईं। बगडोना एलआईसी के सामने भी दरारें हैं। इन दरारों से दोपहिया वाहन चालकों को परेशानी होती है। कंपनी ने संकेतक लगाए, लेकिन ये भी चोरी हो गए। माले को लेकर शिव सेना ने कलेक्टर के पास आपत्ति भी ली है। शिव सेना के जिला प्रमुख विनोद जगताप ने बताया टोल प्लाजा ही गलत स्थान पर बनाया है। इस पर सड़क की रिपेयरिंग तक नहीं हो रही।

बगडोना फोरलेन क्रॉसिंग पर नाली, रोज हो रहे हादसे

स्टेट हाईवे पर छतरपुर चौराहे की क्रॉसिंग पर डिवाइडर पर लगी लाइटिंग के लिए नगर पालिका ने नाली खोदी थी। इसमें केबल बिछाकर इसे कांक्रीट से बंद किया था, लेकिन अब नाली काफी गहरी हाे गई है। कांक्रीट निकल गया है। इससे हादसे हो रहे हैं। क्षेत्र में रहने वाले सूरज तिवारी ने बताया कई वाहन चालक इससे गिरकर घायल हुए हैं। नगर पालिका सीएमओ सीके मेश्राम ने कहा क्रॉसिंग सुधार के लिए नपा की ओर से दो-तीन दिनों में काम कर दिया जाएगा।

बगडोना में एलआईसी के सामने फोर लेन सड़क में इस तरह से दरारें आ गई हैं।

मेंटेनेंस का काम चल रहा है,सड़क की व्हाइट मार्किंग भी कराई जाएगी


रेलिंग टूटने पर कंपनी काे ध्यान देना चाहिए, बाद में शिकायत करते हैं


4 लाख रुपए से ज्यादा की रेलिंग और लाखों के संकेतक चोरी

एमपीआरडीसी की ठेका कंपनी दिलीप बिल्डकॉन ने सड़क पर सुरक्षित यातायात के लिए घाट सेक्शन में रेलिंग और संकेतक लगाए थे। मगर, पिछले दिनों सारी रेलिंग चोरी हो गई। इससे कंपनी को ही करीब 4 लाख का नुकसान हुआ है। दोबारा से नई रेलिंग और संकेतक लगाए हैं। चोरी होने से कंपनी खुद परेशान है।

X
Sarni News - mp news even after taking toll tax the company is not improving on the road place to date cracks not even indicators
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना