आरओ वाटर के 3 प्लांटों पर खाद्य विभाग का छापा, लेकिन नहीं लिए पानी के सैम्पल

Betul News - आरओ वाटर कैनाें में भरकर सप्लाई करने वाले तीन वाटर प्लांटों पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन की टीम ने जांच की। लेकिन फिर...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:41 AM IST
Betul News - mp news food plant raid on 3 plants of ro water but not water samples
आरओ वाटर कैनाें में भरकर सप्लाई करने वाले तीन वाटर प्लांटों पर खाद्य एवं औषधि प्रशासन की टीम ने जांच की। लेकिन फिर भी किसी भी प्लांट से उन्होंने पानी के सैम्पल नहीं लिए। जब भास्कर संवाददाता ने पूछा तो उनका अजीब तर्क था कि यह पैक वाटर में नहीं है, यह हमारे दायरे में नहीं अाता। हमें ताे पैक वाटर के ही सैम्पल लेने का अधिकार है। जब टीम काे गजट नोटिफिकेशन के बारे में बताया ताे उनका कहना था भाेपाल में आयोजित हमारी बैठक में यह तय हुअा कि कैन के पानी का सैम्पल नहीं लेना है। गजट नोटिफिकेशन में जल वेंडिंग मशीन का लिखा हुअा है, कैन का पानी इसमें भी नहीं अाता इसलिए सैम्पल नहीं लेंगे।

खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने प्लांटों पर वाटर टैंकों की सफाई, फाइबर कैन और बैक्टीरियल जांच के इंतजाम देखे। कुछ वाटर कैन से मोबाइल नंबर और पते घिसे हुए मिले इन्हें स्पष्ट और साफ लिखवाने की हिदायत दी। इसी के साथ हर तीन महीने में बैक्टीरियल जांच करवाने के आदेश भी दिए। वाटर टैंकों की सफाई नियमित करने के आदेश दिए। सफाई का रजिस्टर मेंटेन रखने और तारीख लिखकर इस पर साइन करवाने काे कहा।

गजट नोटिफिकेशन के बाद भी अधिकारी बाेले हम नहीं ले सकते कैन के पानी का सैम्पल

भास्कर ने उठाया था मामला

भास्कर ने 7 अक्टूबर को सवाल : आरओ वाटर कैन पर दर्ज नहीं होती पानी में शामिल तत्वों की जानकारी शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने शहर के आरओ वाटर सप्लायर्स के प्लांट पर जाकर व्यवस्थाएं बनानी शुरू की है।

12 आरओ वाटर सप्लायर्स हैं शहर में, नियमित जांच की जाएगी

शहर में 12 आरओ वाटर सप्लायर्स हैं। गली- कूचों में मोहल्लों के अंदरूनी हिस्सों में घरों से इन्हें संचालित किया जा रहा है। इनमें सफाई मापदंडों का अब तक ध्यान नहीं रखा जाता था, लेकिन अब आरओ वाटर के प्लांटों की नियमित जांच की जाएगी।

राेज एक हजार कैन की खपत

शहर में आरओ वाटर के पानी के विक्रेता तेजी से बढ़ रहे हैं। कोसमी की एक बड़ी फैक्ट्री के अलावा इटारसी रोड और चक्कर रोड के दो आरओ वाटर सप्लायर्स पानी की कैन सप्लाई कर रहे हैं। इटारसी रोड से सटे अंदरूनी हिस्सों में आरओ वाटर की दो फैक्ट्रियां हैं। इनके वाहन रोजाना शहर में चलते रहते हैं। 1000 कैन यानी 20 हजार लीटर पानी की खपत एक दिन में होती है।

बैतूल। आरओ वॉटर प्लांट में पहुंचे अिधकारी।

पूर्व में पीएचई की जांच में ई- कोलाई बैक्टीरिया निकले थे

पूर्व में पीएचई ने भास्कर के खुलासे के बाद शहर में 16 जगहों से पानी के सैंपल लिए थे। पीएचई कार्यालय में आने वाले आरओ वाटर के सैंपल में ई-कोलाई बैक्टीरिया निकला था। 160 ई-कोलाई एक लीटर पानी में निकले थे।

3 महीने में करवानी होगी जांच

आरओ वाटर सप्लायर्स को हर तीन महीने में एक बार लैब से पानी की बैक्टीरियल जांच करवाने की हिदायत दी। आगामी निरीक्षण तक बैक्टीरियल जांच की रिपोर्ट रखने के आदेश दिए। इस रिपोर्ट का रिकाॅर्ड मेंटेन रखने को कहा गया। जिससे कि पानी की स्वच्छता का पता चल सके।

वीरा एक्वा, एक्वा ब्लू और यदु फेब्रिकेशन के प्लांट पर मारे छापे

खाद्य सुरक्षा अधिकारी रूपराम सनोडिया, संदीप पाटिल और शशि भारतीय ने शहर के आरओ वाटर प्लांटों की जांच करने के लिए कार्रवाई शुरू की। तीन खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की यह टीम खंजनपुर के वीरा एक्वा, कोठी बाजार में एक्वा ब्लू और यदु फेब्रिकेशन के प्लांट पर टीम पहुंची। इन जगहों पर फाइबर की कैनों की जांच की। कैनों से निर्माता का नाम और पते घिसे हुए मिले। इन पर अनिवार्य रूप से निर्माता के नाम और पते स्पष्ट लिखने की हिदायत दी गई। इसी के साथ टंकी सफाई के बारे में जानकारी ली। तीनों जगहों पर बताया कि हर हफ्ते, पंद्रह दिन में वाटर टैंक साफ करते हैं। इस पर खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने हर बार सफाई की तारीख और सफाई करने वाले के साइन वाला रजिस्टर मेंटेन करने की हिदायत दी। पानी की नियमित बैक्टीरियल जांच करवाने और आगामी निरीक्षण तक रिपोर्ट तैयार रखने के निर्देश भी दिए।

X
Betul News - mp news food plant raid on 3 plants of ro water but not water samples
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना