पीएम से सवाल नहीं करने का निहाल काे रह गया मलाल

Betul News - बच्चे अपनी दिनचर्या में पढ़ाई के साथ खेलकूद और व्यायाम को भी अनिवार्य रूप से शामिल करें। मां- बाप भी बच्चों से उनकी...

Jan 21, 2020, 06:35 AM IST
Amla News - mp news malal was left unhappy to not question pm
बच्चे अपनी दिनचर्या में पढ़ाई के साथ खेलकूद और व्यायाम को भी अनिवार्य रूप से शामिल करें। मां- बाप भी बच्चों से उनकी क्षमता से ज्यादा उम्मीदें रखकर उन पर अनावश्यक दबाव न बनाएं। ये बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मानव संसाधन मंत्रालय के माध्यम आयोजित परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम के दौरान कहीं। इस कार्यक्रम का लाइव टेलीकास्ट ब्लाॅक के सभी स्कूलों में बच्चों को दिखाया गया।

लेकिन आमला वायुसेना केंद्रीय विद्यालय केे छात्र निहाल को पीएम से सवाल नहीं कर पाने का मलाल रह गया। निहाल का पहला सावाल था अधिकांश बच्चे फैल होने के बाद नहीं बल्कि फैल होने के डर से आत्म हत्या कर लेते हैं। दूसरा शिक्षाप्रणाली में सुधार होना चाहिए। तािक बच्चे रिजल्ट के भय से आत्महत्या न करें। तीसरा प्रश्न जनरल परीक्षा की जगह आइडियल एग्जाम होने का था। जिसमें सवाल की जगह परीक्षा में सुझाव मांगे जाने का प्रश्न था।

सुबह 9ः30 बजे से नई दिल्ली के ताल कटोरा स्टेडियम में शुरू हुआ यह कार्यक्रम दोपहर 1.15 बजे तक चला। हालांकि पीएम इस कार्यक्रम में सुबह 11ः20 बजे पहुंचे और करीब आधा दर्जन सवाल- जवाब के बाद पीएम कार्यक्रम से चले गए। कार्यक्रम में मानव संसाधन एवं विकास मंत्री रमेश पोखरीवाल प्रमुख रूप से मौजूद थे। इस कार्यक्रम में देशभर से सलेक्टेड 1050 बच्चे शामिल हुए थे। जबकि मध्यप्रदेश से कुल 50 बच्चे थे।

आमला। स्कूलों में सीधा प्रसारण। इनसेट : पीएम के कार्यक्रम में शामिल आमला केवि का छात्र निहाल ठाकुर।

कुछ एेसा रहा सवाल जवाब का सिलसिला

1 सवाल: परीक्षा के समय मन का डर कैसे हटाएं‌?

पीएम का उत्तर: सोशल मीडिया, मोबाइल में कम समय लगाएं। यह समय बुजुर्गों और परिजनों के साथ बीताएं। इससे उनसे नजदीकियां बढ़ेगी, उनके अनुभवों का फायदा मिलेगा। डर खत्म होगा।

2 सवाल: पढ़ने के लिए उचित समय‌?

जवाबः सुबह पढ़ें, देर रात तक न जागें।

मोदी का सवाल: पढ़ाई के अलावा अन्य खेलकूद आदि गतिविधियों में कितने बच्चे हिस्सा लेते हैं?

जवाब: कम बच्चे सामने अाए।

मोदी ने कहा, पढ़ाई के साथ खेलकूद पर विशेष ध्यान दें। इससे हम तनावमुक्त होते हैं। साथ ही साथ मनोरंजन भी होता है।

3 सवाल: मां- बाप का बच्चों पर पढ़ाई के लिए दबाव और उम्मीदें किस हद तक ठीक?

पीएम ने कहा: मां-बाप पहले तो बच्चों की मानसिक स्थिति को समझें। उनसे मित्रवत व्यवहार करें। डराने के बजाए बच्चों को समझाए। फिजूल दबाव न बनाएं।

जैसा कार्यक्रम में शामिल निहाल ठाकुर ने बताया

Amla News - mp news malal was left unhappy to not question pm
X
Amla News - mp news malal was left unhappy to not question pm
Amla News - mp news malal was left unhappy to not question pm

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना