शिखर मंदिर तक पहुंचे अधिकारी, मेले के एक दिन पहले मिली अधूरी तैयारियां

Betul News - श्री मठारदेव बाबा के मेले में मकर संक्रांति पर भीड़ उमड़ेगी। विशेष पूजन और दान का महत्व होता है। भारी संख्या में...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 04:32 AM IST
Sarni News - mp news officers who reached the shrine temple found incomplete preparations a day before the fair
श्री मठारदेव बाबा के मेले में मकर संक्रांति पर भीड़ उमड़ेगी। विशेष पूजन और दान का महत्व होता है। भारी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद के बीच रविवार को प्रशासनिक अधिकारियों ने शिखर मंदिर रास्ते का सर्वे किया। सर्वे में कई खामियां मिलीं। सीढ़ियों का काम हुआ ही नहीं है। इसे लेकर तहसीलदार ने नाराजगी जताई। उन्होंने रात भर में काम पूरा करने के निर्देश दिए।

श्री मठारदेव बाबा के मेले का औपचारिक शुभारंभ शनिवार को हो गया था। हर साल मकर संक्रांति पर श्रद्धालु शिखर मंदिर पर पूजन और दर्शन के लिए आते हैं। शिखर मंदिर पर मठारदेव बाबा की मढ़िया स्थल और भगवान भोलेशंकर का मठारेश्वर मंदिर है। हर साल 14 जनवरी को 1 लाख से ज्यादा श्रद्धालु यहां पूजन करते हैं। मेले की सारी व्यवस्थाएं नगर पालिका परिषद सारनी करती है। मगर, इस बार चुनावी माहौल के कारण तैयारियां देरी से शुरू हुईं। यही कारण है भीड़ के एक दिन पहले तक तैयारियां पूरी नहीं हो पाईं। इसे लेकर तहसीलदार ने नगर पालिका को सख्त निर्देश दिए। तहसीलदार सत्यनारायण सोनी, प्रशासनिक अधिकारियों ने यहां का सर्वे किया।

सीढ़ियों पर मिले गड्‌ढे, अधिकारी बोले परेशान होंगे श्रद्धालु: मठारदेव बाबा का शिखर मंदिर साढ़े तीन हजार फीट ऊंचाई पर है। यानी करीब चार हजार सीढ़ियां चढ़कर श्रद्धालुओं को यहां पहुंचना है। सीढ़ियों की स्थिति ऐसी नहीं है कि श्रद्धालु आसानी से चढ़ सकें। तहसीलदार सत्यनारायण सोनी ने खुद सर्वे कर इसकी रिपोर्ट सीएमओ को सौंपी है। श्री सोनी ने कहा शिखर मार्ग की स्थिति भी ठीक नहीं है। यहां चढ़ने में दिक्कतें आएंगी।

सारनी। प्रशासनिक टीम ने शिखर मंदिर के रास्ते का सर्वे किया।

मंदिर के रास्ते पर 10 पाइंट पर तैनात होगी पुलिस

मेले में भीड़ के एक दिन पहले पुलिस अधिकारियों ने भी यहां का सर्वे किया। अधिकारियों ने यहां शिखर मंदिर रास्ते पर 10 पाइंट चिन्हित किए हैं। यहां बल तैनात रहेगा। एसडीओपी महेंद्रसिंह बड़गुर्जर, टीआई महेंद्रसिंह चौहान ने बताया मेला परिसर में 40 सीसीटीवी कैमरों से निगरानी होगी। इसके अलावा नगर रखा समिति, अतिरिक्त पुलिस बल और निजी सुरक्षा गार्ड बुलवाए हैं।

यदि आप दर्शन के लिए जा रहे तो साथ ले जाएं पानी

शिखर मंदिर और रास्ते में पीने के पानी की कमी है। काफी कम पानी स्टोर हुआ है। प्रशासनिक टीम ने जानकारी ली तो पला चला बांस बेड़े तक भी पानी नहीं पहुंच पाएगा। यानी श्रद्धालुओं को खुद बॉटल साथ कर जाना होगा। नपा के पानी के पाउच भी ऊपर तक नहीं पहुंच पाए हैं। यानी हर स्तर पर दिक्कतें हैं।

खामियां मिली हैं, इसे सुधारने के लिए कहा है


X
Sarni News - mp news officers who reached the shrine temple found incomplete preparations a day before the fair
COMMENT