• Hindi News
  • Mp
  • Betul
  • Multai News mp news power line started to be removed from kv land building will soon be built

केवि की जमीन से हटाना शुरू की बिजली लाइन, जल्द बनेगा भवन

Betul News - वर्ष 2017 में केवि का संचालन शुरू होने के साथ ग्राम मोही की सीमा में केंद्रीय विद्यालय भवन के लिए जमीन आवंटित की गई...

Dec 04, 2019, 09:45 AM IST
वर्ष 2017 में केवि का संचालन शुरू होने के साथ ग्राम मोही की सीमा में केंद्रीय विद्यालय भवन के लिए जमीन आवंटित की गई थी। आवंटित जमीन के ऊपर से बिजली लाइन गुजरने और लाइन हटाने के लिए पर्याप्त बजट नहीं होने से भवन निर्माण की प्रक्रिया शुरू नहीं हो पा रही थी। अब विधायक निधि से राशि मिलने के बाद 11 केवीए और एलटी लाइन को हटाने तथा 33 केवीए की लाइन को ऊंचा करने का काम शुरू हो गया है।

बिजली लाइन को हटाने के लिए विद्युत वितरण कंपनी ने केवि को 6 लाख 80 हजार रुपए एस्टीमेट दिया था। इतनी राशि केंद्रीय विद्यालय के पास नहीं होने से तीन साल से भवन का कार्य अटका हुआ था। भवन नहीं होने और कमरों की कमी से कंप्यूटर, संगीत सहित अन्य गतिविधियों का संचालन नहीं हो पा रहा है। इसके साथ स्कूल के सामने मैदान पर बाउंड्रीवाल नहीं होने से भी दिनभर वाहनों की आवाजाही से बच्चों को खेलने में भी परेशानी होती है। इस समस्या से पालकों और केंद्रीय विद्यालय के स्टाफ ने पीएचई मंत्री सुखदेव पांसे को अवगत कराया। मंत्री पांसे ने इसे गंभीरता से लेते हुए लाइन हटाने के लिए विधायक निधि से 6 लाख 80 हजार रुपए की राशि स्वीकृत की। इसके बाद लाइन हटाने की प्रक्रिया शुरू हुई। तीन दिन से केवि की जमीन से लाइन हटाने कर कार्य किया जा रहा है।

जौलखेड़ा विद्युत वितरण कंपनी के जेई विवेक विश्वकर्मा ने बताया जमीन के ऊपर से गुजर रही 33 और 11 केवि लाइन की ऊंचाई बढ़ाकर 13 मीटर की जा रही है। एलटी लाइन और ट्रांसफार्मर को शिफ्ट किया जा रहा है। तीन से चार दिन में लाइन को ऊंचा करने और शिफ्ट करने का काम पूरा हो जाएगा।

अब शुरू होगा बिल्डिंग का निर्माण

ग्राम मोही की सीमा में आवंटित जमीन पर लगभग 35 करोड़ रुपए की लागत से केंद्रिय विद्यालय का भवन बनना है। स्कूल भवन के साथ परिसर में स्टॉफ, क्वार्टर, सड़क, विभिन्न खेलों के लिए मैदान, पेयजल, कक्षावार सहित गतिविधियों के लिए कमरे बनाए जाएगे। प्राचार्य मालती मोहोड़ ने बताया आवंटित जमीन के ऊपर से बिजली की लाइन हटने के बाद विद्युत वितरण कंपनी से एनओसी ली जाएगी। यह एनओसी केंद्रीय विद्यालय संगठन भोपाल को भेजी जाएगी। इसके बाद भवन निर्माण को लेकर कार्य शुरू होगा।

मुलताई। केवि की जमीन से ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने का काम हुआ शुरू।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना